आपके घर में भी है हनुमान जी की तस्वीर, कहीं कर तो नहीं रहे यह भूल

  • आपके घर में भी है हनुमान जी की तस्वीर, कहीं कर तो नहीं रहे यह भूल
You Are HereDharm
Monday, June 12, 2017-2:56 PM

वास्तु के अनुसार, घर में देवी-देवताओं के चित्र लगाने से सकारात्मकता आती है। विद्वान कहते हैं जिस घर में दैवीय शक्तियों को सुंदर चित्रो और स्वरूपों में स्थापित किया जाता है। उस स्थान से कभी भी देवी-देवता दूर नहीं जाते। वास्तुशास्त्र के अनुसार घर में देवी-देवताओं के चित्रों को लगाने से सभी परेशानियां दूर होती हैं और घर में सुख-शांति बनी रहती है। क्या आप जानते हैं घर में तस्वीरों को सजाने से पहले कुछ खास पहलुओं पर ध्यान रखने की आवश्यकता है। घर में राम भक्त हनुमान जी के चित्रपट को सजाने के ढेरों लाभ हैं लेकिन उन्हें घर में स्थान देने से पूर्व कुछ तथ्यों पर गौर करें, कहीं कर न बैठें कोई भूल


हनुमान जी बाल ब्रह्मचारी माने गए हैं, दंपति को इनका चित्र अपने बैडरूम में नहीं लगाना चाहिए। इससे अशुभता बढ़ती है। घर के मंदिर में या किसी अन्य पवित्र स्थान पर इनका चित्रपट सजाएं।


सही दिशा का खास ध्यान रखें। दक्षिण दिशा में हनुमान जी ने अपना बल सर्वाधिक दिखाया है। घर-कार्य स्थान पर इनका चित्रपट इसी दिशा में सजाएं। जैसे लंका दक्षिण में है, सीता माता की खोज दक्षिण से आरंभ हुई, लंका दहन और राम-रावण का युद्ध भी इसी दिशा में हुआ। दक्षिण दिशा में हनुमान जी विशेष बलशाली हैं।


इसी प्रकार से उत्तर दिशा में हनुमान जी का चित्रपट लगाने पर दक्षिण दिशा से आने वाली प्रत्येक नकारात्मक शक्ति को हनुमान जी रोक देते हैं। वास्तुनुसार इससे घर में सुख और समृद्धि का समावेश होता है और दक्षिण दिशा से आने वाली हर बुरी ताकत को हनुमान जी रोक देते हैं।

 
जिस रूप में हनुमान जी अपनी शक्ति का प्रदर्शन कर रहे हों ऐसे चित्रपट को घर में  लगाने से किसी भी तरह की बुरी शक्ति प्रवेश असंभव है।


घर के मुख्य द्वार पर काले घोड़े की नाल, दुर्गा यंत्र त्रिशक्ति अंदर व बाहर की ओर गणपति अथवा दक्षिण मुखी द्वार पर हनुमान जी की तस्वीर अथवा भैरव यंत्र लगाकर लाभ लिया जा सकता है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You