नवरात्रों में करें काशी में मां ब्रह्मचारिणी के दर्शन, होगी संपूर्ण इच्छाएं पूर्ण

  • नवरात्रों में करें काशी में मां ब्रह्मचारिणी के दर्शन, होगी संपूर्ण इच्छाएं पूर्ण
You Are HereDharmik Sthal
Sunday, October 02, 2016-2:54 PM

काशी के सप्तसागर (कर्णघंटा) क्षेत्र में मां ब्रह्मचारिणी का मंदिर स्थित है। नवरात्रों में सुबह से ही मंदिर में मां के दर्शनों के लिए भक्तों की कतारें लग जाती हैं। श्रद्धालु मां को अर्पित करने के लिए नारियल, चुनरी, माला-फूल लेकर आते हैं। भक्त लाइनों में लग कर श्रद्धा-भक्ति के साथ अपनी बारी आने का इंतजार करते हैं। 

 

ब्रह्मचारिणी देवी का स्वरूप ज्योतिर्मय एवं अत्यंत भव्य है। मां के दाहिने हाथ में जप की माला अौर बाएं हाथ में कमंडल होता है। माता ब्रह्मचारिणी के इस स्वरूप का पूजन करने से साक्षात परब्रह्म की प्राप्ति होती है। माता के इस स्वरूप के दर्शन मात्र से ही भक्तों को यश और कीर्ति की प्राप्ति होती है।

 

नवरात्रों के दूसरे दिन यहां काशी से ही नहीं अपितु अन्य जिलों से भी भक्त मां के दर्शनों हेतु आते हैं। वैसे तो यहां भक्त आते रहते हैं लेकिन नवरात्रों के समय मंदिर में लाखों श्रद्धालु मां के दर्शनों के लिए आते हैं। माना जाता है कि मां के इस स्वरूप के दर्शन करने से भक्तों को संतान सुख मिलता है अौर उनकी प्रत्येक इच्छाएं पूर्ण होती है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You