मां कालरात्रि भरती हैं सूनी गोदें, मन्नत पूरी होने पर चढ़ता है नारियल का तोरण

  • मां कालरात्रि भरती हैं सूनी गोदें, मन्नत पूरी होने पर चढ़ता है नारियल का तोरण
You Are HereDharmik Sthal
Friday, October 07, 2016-1:32 PM

इंदौर में कालरात्रि माता का मंदिर स्थित है। इस मंदिर में लोगों की अटूट आस्था है। माना जाता है कि इस मंदिर में एक बार गौद भरवा लेने के बाद उनके घर अवश्य संतान होती है। इस मंदिर में मंगलवार की रात को विशेष पूजा-अर्चना होती है।

 

मंदिर में मन्नत मांगने का तरीका बड़ा ही अद्भुत है। सर्वप्रथम भक्त मां को 3 नारियल अर्पित करके गोद भरने की प्रार्थना करते हैं। मंदिर का पुजारी भक्त को गले में भंधन बांधने के लिए मौली देता है। भक्त को यह धागा 5 सप्ताह तक गले में बांधना होता है। मन्नत पूर्ण होने पर नियमानुसार 5 नारियलों का तोरण यहां के वृक्ष पर बांधना होता है। मंदिर में लगे पेड़ पर सैंकड़ों तोरण बंधे हुए हैं। 

 

कहा जाता है कि मंदिर में रात के समय ही पूजा होती है। माना जाता है कि सच्चे मन से मन्नत मांगने पर अवश्य पूर्ण होती है। आरती के समय मौली की भी पूजा की जाती है। जो कि भक्त को गले में बांधने के लिए दी जाती है। मंदिर की खास बात यह है कि भक्त के घर बेटी पैदा होने पर उसे मां दुर्गा का अंश माना जाता है। ऐसे में भक्त यहां बेटे से अधिक बेटी की चाह रखते हैं। भक्तों का मानना है कि यहां सिर्फ सूनी गोद ही नहीं भरती बल्कि जो भी मन्नत मांगों वह अवश्य पूर्ण होती है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You