ये है सफलता पाने के सीक्रेट टिप्स

  • ये है सफलता पाने के सीक्रेट टिप्स
You Are Hereeducation and jobs
Sunday, January 14, 2018-10:57 AM

नई दिल्ली :  हाई-टेक तकनीक की वजह से पूरी दुनिया अब ग्लोबल विलेज बन चुकी है और प्रतिस्पर्धा भी एक नया रूप ले रही है। शायद ही कोई ऐसा क्षेत्र में जहां दूसरों से आगे निकलने के लिए आपस में प्रतिस्पर्धा न हो। हालांकि इन्हीं में चंद लोग ऐसे भी होते हैं, जिन्हें कामयाबी नसीब होती है, तो कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जो दूसरों की सफलता को टकटकी निगाहों से देखते भर रह जाते है। किसी ने सही कहा है कि  कामयाबी कभी-भी आपके पास आती नहीं है, बल्कि आपको हासिल करना पड़ता है। आज  हम आपको बता रहे है एेसे ही कुछ करियर के सक्सेस सीक्रेट के बारे में जो आपके काम आ सकते है 

ऑर्गनाइजेशन क्या चाहता है
 जब आप किसी ऑर्गनाइजेशन को ज्वाइन करते हैं, तो अपना कुछ समय यह जानने में इन्वेस्ट करें कि ऑर्गनाइजेशन का मिशन, लक्ष्य और वैल्यू क्या हैं? यदि ऑर्गनाइजेशन किसी समस्या से जूझ रहा है और आप समस्या के निदान के बारे में अवगत कराते हैं, तो समझिए आप सफलता की सीढ़ी चढऩा शुरू कर दिया है। याद रहे, यदि आप अपने करियर में और सक्सेस हासिल करना चाहते हैं, तो अपने ऑर्गनाइजेशन, डिपार्टमेंट और मैनेजर की सहायता के लिए अवश्य तत्पर रहना चाहिए, क्योंकि इन्हीं की सफलता में आपकी कामयाबी भी छिपी हुई है।

चेंज के लिए रहे तैयार
यदि ऑर्गनाइजेशन में ही आपको किसी अन्य डिपार्टमेंट में शिफ्ट किया जाता है, तो ऐसी स्थिति में आपको भी अपने जॉब स्टाइल में चेंज लाना ही होगा। इस चेंज से घबराने की बजाय इसे आपको करियर ऑपरच्युनिटीज के रूप में लेना चाहिए, लेकिन यहां सवाल यह उठता है कि यह कैसे संभव होगा? इस तरह के चेंज का सामना करने के लिए आपको सबसे पहले प्रो-ऐक्टिव होना होगा। आप खुद से ही यह सवाल करें कि परिवर्तन किस तरह से आपके जॉब को प्रभावित कर सकता है? चेंज के बाद आप किस तरह से ऑर्गनाइजेशन की सहायता कर सकते हैं? आदि। यदि आप इन क्वेश्चंस का आंसर जान जाते हैं, तो खुद ही आप चुनौती का सामना करने के लिए तैयार होंगे।

बनिए अपने जॉब में मास्टर
अपने जॉब से संबंधित चीजों के बारे में जानने में जितना अधिक टाइम इन्वेस्ट करेंगे। आपके करियर के लिए यह उतना ही फायदेमंद होगा। अक्सर देखा जाता है कि अधिकतर एम्प्लॉई कुछ ही कामों में मास्टर होते हैं और इसमें अपना तकरीबन 80 प्रतिशत समय जाया कर देते हैं, लेकिन जब बारी आती है करियर में आगे बढऩे की, तो एम्प्लॉई के पास वह स्किल नहीं होती है, जिनकी वजह से उन्हें प्रमोशन और आगे बढऩे का अवसर मिले। यह 21वीं शताब्दि है और यहां अब आप यह बहाना नहीं कर सकते है, आप किसी चीज के बारे में नहीं जानते हैं। ऐसी स्थिति में आपके लिए बेहतर यही होगा कि उस क्षेत्र से जुड़़े एक्सपर्ट के बात करें कि आप अपने फील्ड में और बेहतर कैसे कर सकते हैं? यदि आप ऐसा करते हैं, तो यकीन मानिए आप अपने फील्ड के मास्टर होंगे और आपकी जरूरत हर जगह होगी।

स्वयंसेवी प्रवृत्ति बदल सकती है करियर की दिशा
यदि आपको ऑर्गनाइजेशन में वॉलनटिअर असाइनमेंट मिलता है, तो इस तरह के मौकों को खोना नहीं चाहिए, क्योंकि यहां आपको अपनी एक्सट्रा स्किल को एक्सपोज करने का मौका मिलता है। जो आज के बदलते वक्त में करियर के लिहाज से बेहद जरूरी है। खास कर उन चैलेजिंग वॉलनटिअर प्रोजेक्ट को अपने हाथ में लेना चाहिए, जिसे अन्य एम्प्लॉई अक्सर छोड़ देते हैं। इस तरह के प्रोजेक्ट को हाथ में लेने की आपकी लीडरशिप, मैनेजमेंट और इंटरपर्सनल स्किल भी डेवलॅप होगी। साथ ही, आप मैनेजमेंट की नजरों में भी उभर कर सामने आएंगे।

बनें सॉल्यूशन क्रिएटर, न कि प्रॉब्लम मेकर
हर कोई ऑर्गनाइजेशन में व्याप्त परेशानियों को ढूंढ सकता है। किंतु आपके लिए बेहतर यही होगा कि आप ऑर्गनाइजेशन की परेशानियों को गिनाने की बजाय सॉल्यूशन क्रिएटर के रूप में सामने आएं, क्योंकि कुछ एम्प्लॉइज में परेशानियों को ढूंढने और उसे रिपोर्ट करने की खास स्किल होती है। लेकिन आप इस तरह की परेशानियों को 'ऑपरच्युनिटि फॉर एडवांसमेंट के रूप में लेना चाहिए। अब सवाल यह उठता है कि आखिर ऐसी स्थिति में आप क्या करें? सबसे पहले परिस्थिति का विश्लेषण करें और इसके बाद आइडियाज को डेवलॅप करते हुए उस समस्या का समाधान करने की पहल करें। वैसे, आप अपनी परेशानियों को मीटिंग, ई-मेल और मैनेजमेंट के साथ बातचीत कर सुलझा सकते हैं।

आगे की सोचें
यदि आप अपने ऑफिस में जूनियर मैनेजर के रूप में काम कर रहे हैं, लेकिन आप मैनेजर बनाना चाहते हैं, तो आपको मैनेजर की तरह काम करना शुरू कर देना चाहिए। लेकिन ध्यान रहे कि यदि ऑर्गनाइजेशन मैनेजर को नेक्स्ट लेवॅल पर प्रमोट नहीं कर रहा है, तो तब भी आपके लिए फायदा ही है, क्योंकि आप मैनेजर के वर्क लोड को कम कर सकते हैं।

आप क्या चाहते हैं?
कई बार एम्प्लॉई इसलिए भी प्रमोशन के चांसेज से चूक जाते हैं, क्योंकि उन्हें मालूम नहीं होता है कि कब और कैसे प्रमोशन की बात अपने बॉस के सामने रखना है। अपने प्रमोशन की बात पर कुछ देर विचार करें, इसके बार सुपरवाइजर, मैनेजर, बॉस, डॉयरेक्टर आदि से सामने बैठे और उनसे कहें कि अब आप नेक्स्ट लेवॅल पर काम करने के लिए तैयार है। हकीकत तो यह है कि स्किल और बेहतर परफॉर्मेंस के बाद भी अपने प्रमोशन की बात मैनेजमेंट तक नहीं पहुंचा पाते हैं, तो आप निश्चित तौर पर करियर की सबसे बड़ी चूक कर रहे हैं।

ज्वाइन करें नेटवर्किंग ग्रुप
कुछ ऑर्गनाइजेशन इन दिनों ट्रेनिंग और करियर प्रोग्राम्स भी संचालित करते हैं। अपने करियर ग्रॉफ को ऊपर ले जाने के लिए इन प्रोग्राम्स में जरूर हिस्सा लें। इससे मैनेजमेंट को भी मालूम होगा कि आप कुछ अलग करने की चाहत रहते हैं। इस तरह मैनेजमेंट आपकी स्किल्स को देखते हुए नार्मल ड्यूटी की बजाय अलग तरह की कार्यों या प्रोजेक्ट का हिस्सा भी बना सकती है। इसके अलावा, आप प्रोफेशनल ग्रुप और असोसिएशन को भी ज्वाइन कर सकते हैं। इस तरह आपको अपनी स्किल को ऑर्गनाइजेशन के बाहर भी प्रदर्शित करने का मौका मिलेगा। साथ ही, आप असोसिएशन के ऐक्टिविटीज में भी हिस्सा लें और अपनी क्रिएटिविटी, टीमवर्क और अन्य स्कि ल को शो करें। यकीनन इससे आपको अपने करियर में फायदा मिलेगा।

बताएं अपनी जॉब स्टोरी
आप अपने ऑर्गनाइजेशन में क्या करते हैं और उस काम को कितना बेहतर करते हैं, यह ऑफिस या बाहर के चंद लोग की जानते हैं, लेकिन आज के दौर में यह बेहद जरूरी है कि आप अपनी जॉब स्टोरी मीटिंग, कंपनी कॉन्फें्रस आदि में पूरे पैशन के साथ बताएं। हालांकि कुछ लोग अपनी जॉब स्टोरी को बताने से इसलिए भी डरते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि इससे उनकी आगे की जॉब आपरच्युनिटीज खतरे में पड़ जाएगी। यदि आप अपनी जॉब स्टोरी बताने में झिझक रहे हैं, तो टोस्टमास्टर ग्रुप (www.toastmasters.org) ज्वाइन कर सकते हैं, जिसके पूरे विश्व में इसके लाखों सदस्य हैं। इस ग्रुप को ज्वाइन करने के बाद आपकी पब्लिक स्पीकिंग स्किल, एवेल्युएशन, लीडरशिप स्किल, कॉन्फिडेंस आदि इम्प्रूव होगी।

बिल्ड फाइनैंशियल पावर
आप करियर में सफलता हासिल करना चाहते हैं, लेकिन आपकी फाइनैंशियल स्थिति मजबूत नहीं है, तो यह सबसे बड़ी बाधा साबित हो सकती है। फाइनैंशियल रूप से मजबूत नहीं होने पर स्किल डेवलॅपमेंट के लिए एजुकेशन पर इन्वेस्ट नहीं कर पाएंगे। साथ ही, इस बात को लेकर डरते रहेंगे कि कहीं आप अपने पोजिशन न खो दें। इसलिए यह जरूरी है आप अपनी फाइनैंशियल स्थिति को मजबूत करें, ताकि बेहतर आपरच्युनिटीज हासिल करने के लिए आप एजुकेशन पर इन्वेस्ट कर सकें।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You