बेहतर सिंचाई सुविधाएं देगी सरकार : वीरभद्र

  • बेहतर सिंचाई सुविधाएं देगी सरकार : वीरभद्र
You Are HereHimachal Pradesh
Sunday, May 31, 2015-12:01 AM

शिमला: मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के लोगों को पर्याप्त सिंचाई सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि इससे किसान बेमौसमी सब्जियों के अलावा पुष्प उत्पादन तथा डेयरी फार्मिंग को व्यापक स्तर पर अपना सकेंगे। मुख्यमंत्री शनिवार शिमला जिले की सुन्नी तहसील के खैरा में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकारी क्षेत्र में नौकरियों के सीमित अवसर रहते हैं, इसलिए युवाआें को स्वरोजगार के अवसर तलाशने चाहिए।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने ग्राम पंचायत जूणी के अणु में 1.21 करोड़ रुपए की लागत से उठाऊ सिंचाई योजना के संवद्र्धन कार्य की आधारशिला रखी तथा विभाग को शीघ्र इस कार्य को पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने सुन्नी में 36 लाख रुपए की लागत से बनने वाली बागवानी विकास अधिकारी कार्यालय के आवासीय भवन की आधारशिला रखी। इसके बाद ग्राम पंचायत चेवड़ी के खैरा में 61 लाख रुपए की लागत से बनने वाले स्वास्थ्य उपकेन्द्र तथा 1.17 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भवन का शिलान्यास किया। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को स्कूल भवन निर्माण कार्य को 10 माह के भीतर पूरा करने के निर्देश दिए।

राज्य में बेमौसमी सब्जियों का 14 लाख टन उत्पादन
मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि राज्य में बेमौसमी सब्जियों का 14 लाख टन से अधिक उत्पादन हो रहा है जिससे प्रदेश को 2,500 करोड़ रुपए की आय हुई है। उन्होंने मंडियों में जैविक उत्पादों की भारी मांग और इसे आय का मुख्य साधन देखते हुए किसानों से जैविक खेती को अपनाने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार चालू वित्त वर्ष के दौरान 2,000 हैक्टेयर अतिरिक्त भूमि को जैविक खेती के अन्तर्गत लाएगी और किसानों को 50 प्रतिशत अनुदान के साथ 20,000 वर्मी कम्पोस्ट इकाइयों की स्थापना करेगी।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You