अमरीका में रोजाना गोलीबारी का शिकार होते हैं बच्चे

  • अमरीका में रोजाना गोलीबारी का शिकार होते हैं बच्चे
You Are HereInternational
Tuesday, June 20, 2017-11:14 AM

वाशिंगटन: अमरीका में एक सरकारी अध्ययन में ये बात सामने आई है कि रोजाना गोलीबारी में 19 बच्चों की मौत हो जाती है या वे घायल हो जाते हैं। 


रिपोर्ट में बताया गया है कि अमरीका में गोली के जख्म से सालाना 1,300 बच्चों की मौत हो जाती है। वहीं, अन्य 5,790 बच्चे गोली से हुए जख्म का उपचार कराते हैं और जीवित बच जाते हैं। अध्ययन के मुताबिक करीब 19 बच्चे हर दिन गोली लगने से मारे जाते हैं या आपातकालीन उपचार हासिल करते हैं। सबसे ज्यादा खतरा लड़़कों, किशोर और अश्वेत लोगों को है। यह अध्ययन देश में हिंसा की भयावह तस्वीर को पेश करता है।


साल 2002 और 2014 के बीच के अमरीकी डाटा का विश्लेषषण इस विषय पर अब तक सबसे व्यापक अध्ययन माना जा रहा है। इस रिपोर्ट में 17 साल तक के किशोरों को शामिल किया गया। इसका संकलन मृत्यु प्रमाण पन्नों और आपातकालीन कक्षों की रिपोर्ट के आधार पर किया गया। ज्यादातर मौतों बंदूकों से खेलते समय भी हुई है। 40 फीसदी बच्चों ने खुद पर गलती से गोली चला ली थी। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You