पनडुब्बी हादसे की जांच में भारत का सहयोग करेगा रूस

  • पनडुब्बी हादसे की जांच में भारत का सहयोग करेगा रूस
You Are HereInternational
Friday, August 16, 2013-10:12 PM

मॉस्को: रूस के उप प्रधानमंत्री दिमित्री रोगोजिन ने आज कहा कि आईएनएस सिंधुरक्षक में हुए विस्फोट के मामले की जांच में रूसी नौसेना के इंजीनियर भारतीय नौसेना की मदद करेंगे।

रोगोजिन ने समाचार एजेंसी आरआई नोवोस्ती को बताया कि रूसी विशेषज्ञ इस हादसे के पीछे किसी तरह की तकनीकी खामी नहीं देखते हैं।

उप प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने सरकारी पोत निर्माता कंपनी युनाइटेड शिपबिल्डिंग कारपोरेशन को आदेश दिया है कि भारतीय पक्ष के साथ हुए समझौते के तहत अधिक विशेषज्ञों को भारत भेजा जाए, ताकि भारतीय मित्रों को सभी जरूरी सहयोग मुहैया कराया जा सके।

रूस में निर्मित पनडुब्बी आईएनएस सिंधुरक्षक को भारतीय नौसेना में 1997 में शामिल किया गया था और इसकी लागत लगभग 400 करोड़ रपए थी। हाल ही में 450 करोड़ रपए की लागत से रूस में ही इसका नवीनीकरण किया गया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You