अमेरिका ने फिर किया मोदी को वीजा देने का विरोध

  • अमेरिका ने फिर किया मोदी को वीजा देने का विरोध
You Are HereNational
Saturday, August 17, 2013-9:25 AM

वाशिंगटन: अमेरिका की एक शीर्ष अधिकारी ने 2002 के दंगों में गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी की भूमिका को लेकर कायम गंभीर संदेह के मद्देनजर उन्हें वीजा दिए जाने का विरोध किया है। अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता पर अमेरिकी आयोग की उपाध्यक्ष कैटरीना लांतोस स्वेट ने कहा कि गुजरात में 2002 में हुई वीभत्स घटनाओं में मोदी की भूमिका पर कायम गंभीर संदेह को लेकर उन्हें अमेरिका का वीजा नहीं दिया जाना चाहिए। दरअसल, आयोग धार्मिक स्वतंत्रता उल्लंघन के तथ्यों और परिस्थितियों की समीक्षा करता है और अमेरिकी राष्ट्रपति, विदेश मंत्री तथा कांग्रेस को नीतिगत सिफारिशें करता है।

न्यूयार्क टाइम्स ने कैटरीना के हवाले से बताया है, ‘‘ऐसे ढेरों अनुत्तरित सवाल हैं  जो अभी तक बने हुए हैं, कई गंभीर आरोप हैं, काफी संदेह है।’’  अगले लोक सभा चुनाव के लिए भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर मोदी को नामित किए जाने की संभावना के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इस बारे में देश से किसी बाहरी व्यक्ति या किसी अन्य देश की भूमिका नहीं हो कि भारत का अगले नेता किसे होना चाहिए। उन्होंने कहा कि उन्हें लगता है कि भारतीयों को बहुत सावधानीपूर्वक विचार करना जरूरी है कि वह कौन व्यक्ति होगा जिसे वे अपना अगला प्रधानमंत्री बनाना चाहते हैं।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You