मिस्र संकट: पुलिस ने काहिरा में मस्जिद को घेरा

  • मिस्र संकट: पुलिस ने काहिरा में मस्जिद को घेरा
You Are HereInternational News
Saturday, August 17, 2013-6:59 PM

काहिरा: मिस्र में सुरक्षा बलों ने आज उस मस्जिद को घेर लिया जिसमें सत्ता से हटा, गए राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी के एक हजार से अधिक समर्थक मौजूद हैं। इस बीच मुस्लिम ब्रदरहुड ने सड़क पर हुए भीषण संघर्ष में करीब 100 लोगों की मौत के बाद ताजा विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया है।

दंगा नियंत्रण शैली में काम करते हुए बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों ने अल फतह मस्जिद को घेर लिया। प्रदर्शनकारी कल की झड़पोंं अैा घायल हुए लोगों को लेकर गए हैं।

मुस्लिम ब्रदरहुड ने देश में संघर्ष के नवीनतम स्थल मध्य काहिरा में रामसेस चौक के पास स्थित मस्जिद में एक अस्थायी अस्पताल स्थापित किया है। कुछ सुरक्षाकर्मी प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने के लिए मस्जिद में प्रवेश कर गए और कथित रूप से महिलाओं को जाने की इजाजत देने की पेशकश की। सुरक्षाबलों ने हालांकि कहा कि पुरूषों को पूछताछ के लिए रोका जाएगा लेकिन ब्रदरहुड ने प्रस्ताव खारिज कर दिया।

गतिरोध के जारी रहने के बीच टेलीविजन चैनलों ने दिखाया कि महिलाओं के एक छोटे समूह को मस्जिद से बाहर लाया जा रहा है। बीबीसी ने मस्जिद के भीतर मौजूद प्रदर्शनकारियों के हवाले से कहा कि उन्हें अधिकारियों के बाहर निकलने का सुरक्षित रास्ता देने के वादे पर भरोसा नहीं है।

उन्होंने कहा कि भीतर दो शव हैं जिसमे से एक महिला का है जिसकी मौत मस्जिद में कल रात को आंसू गैस का गोला दागने के बाद हुई। दूसरा शव उस व्यक्ति का है जिसे गोली लगने के बाद घायल अवस्था में मस्जिद में लाया गया था। वहीं खबर यह भी  है कि मिस्र में ब्रदरहुड के नेता के बेटे की गोली लगने से मौत हो गई है। मुस्लिम ब्रदरहुड के नेता मोहम्मद बदी का बेटा कल यहां विरोध प्रदर्शन के दौरान मारा गया। ब्रदरहुड की प्रीडम और जस्टिस पार्टी के अनुसार 38 वर्षीय अम्मार बदी रामसेस स्क्वायर में एक प्रदर्शन में भाग ले रहे थे।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You