मैं महिला हूं और मुझे उसी तरह पुकारा जाए: मैनिंग

  • मैं महिला हूं और मुझे उसी तरह पुकारा जाए: मैनिंग
You Are HereInternational
Thursday, August 22, 2013-9:31 PM

वाशिंगटन: अमेरिकी इतिहास में खुफिया दस्तावेजों का सबसे बड़ा भंडाफोड़ करने वाले ब्रैडले मैनिंग को सैन्य जेल में 35 साल की सजा सुनाई गई है। उसने आज यह बयान देकर सबको हैरत में डाल दिया कि वह महिला है और चेल्सिया नामक महिला के रुप में रहना चाहता है।

अपने जीवन के दूसरे चरण में मैं सबको यह जताना चाहता हूं कि मैं वास्तव में क्या हूं। मैं चेंल्सिया मैनिंग हूं। मैं महिला हूं। मैनिंग ने एनबीसी न्यूज के (टुडे) कार्यक्रम में एक बयान में कहा, बचपन से जैसा मैं महसूस करता रहा हूं। मैं यथाशीघ्र हार्मोन थेरेपी शुरू करना चाहता हूं। मैनिंग ने कहा, मैं यह भी आग्रह करता हूं कि आज से आप मुझे नए नाम से पुकारे और महिला सर्वनाम का उपयोग करें।

कार्यक्रम में मैनिंग के वकील डेविड कुम्बस ने कहा कि उसे उम्मीद है कि राष्ट्रपति बराक ओबामा मैनिंग को क्षमा कर देंगे। वकील ने कहा कि सैनिकों को सात साल में क्षमा मिल सकती है। मैनिंग को फोर्ट लीवेनवर्थ कनसास में बैरक में सजा काटनी होगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You