‘कश्मीर पर अमेरिका की नीति में कोई बदलाव नहीं’

  • ‘कश्मीर पर अमेरिका की नीति में कोई बदलाव नहीं’
You Are HereInternational
Friday, August 23, 2013-4:33 PM

वाशिंगटन: भारत-पाक नियंत्रण रेखा पर जारी तनाव पर चिंता व्यक्त करते हुए अमेरिका ने कहा है कि कश्मीर पर उसकी नीति में कोई बदलाव नहीं आया है और आपसी वार्ता की ‘गति, लक्ष्य तथा प्रकृति’ के बारे में तय करना भारत और पाकिस्तान पर निर्भर करता है।

अमेरिकी विदेश विभाग की प्रवक्ता जेन प्साकी ने कल संवाददाताओं से कहा, ‘नियंत्रण रेखा पर हो रही हिंसा को लेकर हम चिंतित हैं। हमारा मानना है कि भारत और पाकिस्तान की सरकारें संपर्क में हैं। हम आगे भी बातचीत को प्रोत्साहित करना जारी रखेंगे।’ जेन ने कहा, ‘जैसा आप जानते हैं कि कश्मीर पर हमारी नीति में कोई बदलाव नहीं आया है। हमारा अब भी मानना है कि भारत और पाकिस्तान के बीच वार्ता की गति, लक्ष्य और प्रकृति को उन्हीं देशों को तय करना है।’

अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी की ओर से हालांकि, इस संबंध में दोनों देशों से कोई बातचीत नहीं की गई है, लेकिन प्साकी ने कहा कि भारत और पाकिस्तान से अमेरिका काफी दृढ़ निकटता रखता है। जेन ने कहा, ‘और मैं जानती हूं कि वे, नि:संदेह, व्यापक मुद्दों पर नेताओं के संपर्क में रहते हैं।’

उन्होंने कहा कि स्थिति अभी ऐसे बिन्दु पर नहीं पहुंची है जिससे कि अफगानिस्तान पर असर पड़े। प्रवक्ता ने कहा, ‘अभी तक हम उस बिन्दु पर नहीं पहुंचे हैं। मैं निश्चित तौर पर भविष्य के बारे में कयास नहीं लगाना चाहती। हमें उम्मीद है कि वे वार्ता करेंगे, और नि:संदेह, उन्होंने अफगानिस्तान में भी प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, और हमें उम्मीद है कि यह जारी रहेगी।’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You