‘आतंकवाद का मुकाबला करने का एकमात्र विकल्प है संवाद’

  • ‘आतंकवाद का मुकाबला करने का एकमात्र विकल्प है संवाद’
You Are HereInternational
Sunday, August 25, 2013-5:56 PM

इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने कहा है कि आतंकवाद की समस्या का मुकाबला करने का एकमात्र विकल्प बातचीत है और देश की सेना भी इस मुद्दे पर सरकार से सहमत है। गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान ने कहा कि सरकार की ओर से बातचीत के लिए दिए गए प्रस्ताव को लेकर कोई शर्त नहीं रखी गई है।

उन्होंने कहा कि देश में आतंकवाद और चरमपंथ से निपटने के लिए बातचीत के विकल्प का सेना पूरी तरह से समर्थन करती है। निसार ने कहा कि बातचीत के सफल नहीं होने की स्थिति में वह किसी दूसरे विकल्प को लेकर अभी बात नहीं करना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘हमारी प्राथमिकता बातचीत है और हम फिलहाल किसी और चीज के बारे में बात नहीं करना चाहते।’

पाकिस्तानी गृह मंत्री ने समाचार पत्र ‘द न्यूज’ से कहा कि पीएमएल-एन ने अमेरिका में 2001 में हुए आतंकी हमले के बाद मुशर्रफ शासन की ओर से अपनाई नीतियों का विरोध किया था। उन्होंने कहा, ‘संसद में नेता प्रतिपक्ष के तौर पर दिए गए मेरे भाषणों को देखिए। मैं हमेशा ताकत के इस्तेमाल की बजाय बातचीत करने के पक्ष में रहा हूं।’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You