देश की सबसे बड़ी शक्ति हुई पैसों के लिए मोहताज

  • देश की सबसे बड़ी शक्ति हुई पैसों के लिए मोहताज
You Are HereInternational
Wednesday, August 28, 2013-1:15 PM

न्यूयार्क: दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका वित्तीय संकट की ओर डूब रहा है। जानकारी मिली हैं कि अक्तूबर के मध्य तक अमेरिका के पास कुछ दिनों के खर्च के लिए लगभग 3.31 लाख करोड़ रुपए ही बच जाएंगे। अगर ऐसा हुआ तो वह अपने समाज के लोगों को समाजिक सुरक्षा के मद में दी जाने वाली रकम नहीं दे पाएंगे और न ही वह अपने सैनिकों को वेतन दे पाएंगे।

राष्ट्रपति बराक ओबामा प्रशासन ने आर्थिक संकट की बात स्वीकार करते हुए कहा कि देश में पहले से 16.7 लाख करोड़ डॉलर का कर्ज है। जिस कारण अब और ज्यादा कर्ज लेने की स्थिति में भी नहीं है। बताया जा रहा हैं कि खुद ओबामा और उनकी सरकार के कई मंत्री भी अपना वेतन कम करवा रहें हैं।

यहां तक कि कर्मचारियों को जबरन अवैतनिक छुट्टी पर भेजा जा रहा है। ओबामा प्रशासन ने सामाजिक सुरक्षा के क्षेत्र में महत्वाकांक्षी मेडिकेयर योजना चला रखी है। यह योजना ओबामा के ड्रीम प्रोजेक्ट हैं और इस पर भी खतरा मंडरा रहा है। ओबामा ने देश की कर्ज सीमा बढ़ाने पर साफ इनकार कर दिया हैं। इसके साथ ही उन्होंने इस संकट का दोषी देश की संसद (कांग्रेस) खासकर रिपब्लिकन पार्टी को ठहराया हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You