'कार्यकाल पूरा होने के बाद पाकिस्तान में रहेंगे जरदारी'

  • 'कार्यकाल पूरा होने के बाद पाकिस्तान में रहेंगे जरदारी'
You Are HereInternational
Wednesday, August 28, 2013-10:58 PM

लाहौर: पाकिस्तानी राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी आगामी 8 सितंबर को अपना कार्यकाल पूरा होने के बाद अपने देश में ही रहेंगे और उनका इरादा पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) को मजबूती देने के लिए काम करने का है।

पीपीपी ने इस कयास को सिरे से खारिज कर दिया है कि राष्ट्रपति पद से मुक्त होने के बाद जरदारी (58) दुबई और ब्रिटेन में ज्यादा वक्त बिताएंगे। राष्ट्रपति के प्रवक्ता फरहतुल्ला बाबर ने कहा, ‘‘राष्ट्रपति कहीं नहीं जा रहे हैं। राष्ट्रपति पद छोडऩे के बाद वह एक सप्ताह लाहौर में रहकर पंजाब प्रांत में पार्टी से जुड़े मामलों को देखेंगे।

बाबर ने कहा, वह पार्टी को अधिक समय और ध्यान देंगे। वह इसी मकसद से ज्यादातर समय लाहौर और कराची में रहेंगे। पीएमएल-एन और पीपीपी के कुछ नेताओं ने पीटीआई से बातचीत में अनुमान लगाया कि कार्यकाल पूरा होने के बाद जरदारी छह महीने तक विदेश में रह सकते हैं। पीपीपी के एक नेता ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर कहा, ‘‘आने वाले महीनों में जरदारी विदेश में रहना पसंद करेंगे क्योंकि फिलहाल पार्टी के मामले पर ध्यान देने की कोई जरूरत नजर नहीं आती।’’

पीपीपी के सूचना सचिव कमर जमां कायरा ने पीटीआई को बताया कि जरदारी का मुख्य ध्यान पार्टी को पुनर्गठित करने और इसे मजबूती देने पर होगा। उन्होंने कहा, ‘‘हम राष्ट्रपति का कार्यकाल पूरा होने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं क्योंकि इसके बाद पीपीपी उनके तहत प्रभावी ढंग से काम कर सकेगी।’’

कायरा ने कहा कि पीपीपी को जरदारी की जरूरत है। उन्होंने कहा, ‘‘जब जरदारी साहब कार्यकर्ताओं के बीच होते हैं तो पार्टी का हौसला बढ़ जाता है। उनके होने से पीपीपी एक मजबूत विपक्षी दल के रूप में उभरकर सामने आएगी क्योंकि जरदारी खुलकर अपना राजनीतिक दायित्व निभा सकेंगे। ’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You