इराक, अफगानिस्तान के बाद अब सीरिया पर गडी 'बाज' की आंख

  • इराक, अफगानिस्तान के बाद अब सीरिया पर गडी 'बाज' की आंख
You Are HereInternational
Wednesday, August 28, 2013-11:51 PM

तेहरानः इराक और अफगानिस्तान के बाद अब अमेरिकी 'बाज' की आंखें सीरिया पर गड गयी हैं और जल्द ही वह उस पर हमला करने की घोषणा कर सकता है। अमेरिका का कहना है कि सीरिया में भविष्य में हमले के दौरान रासायनिक हथियार का इस्तेमाल न किया जाये इसके लिये सीरियाई सरकार को कडा सबक सीखाना जरूरी है।

अमेरिका और उसके सहयोगी देशों ने 20 मार्च 2003 को ऐसा ही कड़ा सबक इराक के राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन को सिखाने के लिये उस पर हमला किया था जिसके फलस्वरूप खाक में मिला इराक अब भी पांव पर खडा होने के लिये जूझ रहा है। अमेरिका, आस्ट्रेलिया, ब्रिटेन और तुर्की सीरिया में हुये रासायनिक हमले को लेकर एक गुट बना चुके हैं और ये सभी देश उस पर हमला करने के लिये तैयार हैं।

लेकिन शिया समुदाय के सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद सरकार के हितैषी रूस, ईरान आदि देश इस सैन्य हस्तक्षेप की संभावना का प्रबल विरोध करने में जुटे हैं। रूस  और ईरान का कहना है कि सीरिया के मामले में सैन्य हस्तक्षेप करने से बडी कोई गलती हो ही नहीं सकती है। ईरान के सर्वोच्च धार्मिक नेता अयातुल्ला अली खमनेई ने आज कहा, अमेरिका अगर सीरिया के मामल में टांग अडाता है तो यह पूरे क्षेत्र के लिये त्रासद होगा। सीरिया बारूद की ढेर है और अगर इसमें आग लगायी गयी तो परिणाम की कल्पना नहीं की जा सकती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You