रेप मामले में जज का बेतुका बयान, मचा बवाल

  • रेप मामले में जज का बेतुका बयान, मचा बवाल
You Are HereInternational
Friday, August 30, 2013-10:50 AM

न्यूयार्क: अमरीका के मोंटाना में रेप मामले पर एक जज की टिप्पणी से इतना बवाल मच गया कि अब जज पर इस्तीफा देने के लिए जोर दिया जा रहा हैं। जानकारी के मुताबिक, 71 वर्षीय जज टोड बौ ने अपने बयान में कहा था कि स्थितियाँ उस लड़की के नियंत्रण में थीं और वह अपनी वास्तविक उम्र से ज़्यादा थी। जज के इस बयान के बाद पीड़िता की माँ भी काफी गुस्से में हैं।
¥æò
लड़की की मां ने कहा कि लड़की की उम्र तो ड्राइविंग लाइसेंस हासिल करने की भी नहीं थी। हालांकि बाद में जज ने अपने इस बयान को काफी बेवकूफी भरा बताया था। जज ने कहा कि वह कुछ और कहना चाहते थे, लेकिन गलती से उन्होंने यह बयान दे दिया। गुरुवार को जज के इस बयान पर यलोस्टोन काउंटी कोर्ट के सामने सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन कर उनके इस्तीफ़े की माँग की।

गौरतलब हैं कि 2008 में 54 वर्षीय स्टेसी रम्बोल्ड पर मोंटाना के बिलिंग्स में हाई स्कूल की छात्रा रही चेरिस मोर्ले के बलात्कार का मामला दर्ज किया गया था। जिसके बाद लड़की ने आत्महत्या कर ली थी। पीड़िता की माँ का आरोप है कि बलात्कार और उसके बाद होने वाली अवसाद से ग्रस्त होकर उनकी बेटी ने 2010 में आत्महत्या कर ली थी। आरोपी स्टेसी रम्बोल्ड को अदालत ने सोमवार को 15 साल की सज़ा सुनाई हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You