लादेन का प्रिय ए-के-47 सीआईए के म्यूजियम में

  • लादेन का प्रिय ए-के-47 सीआईए के म्यूजियम में
You Are HereInternational
Friday, August 30, 2013-3:06 PM

न्यूयार्क: आतंकवादी सरगना ओसामा बिन लादेन का सबसे पसंदीदा हथियार ए-के-47 एसाल्ट राइफल को सी आइ ए ने वर्जिनिया के लांगले स्थित अपने म्यूजियम में रखने का फैसला किया है। अल कायदा के इस खूंखार आतंकवादी को अमेरिकी विशेष बल नेवी सील्स ने पाकिस्तान में अपने एक अभियान में मार गिराया था।

नेवी सील्स के कमांडों ने यह ए-के-47 ओसामा के शव के साथ एबटाबाद में बरामद किया था। इस राइफल पर नकली चीनी मुहर है। म्यूजियम के को यूरेटर टोनी हिली ने कहा कि एलाल्ट राइफल पर चीनी मुहर संदेह उत्पन्न करते है लेकिन सीआईए के अधिकारी और जांचकत्र्ता को विश्वास है कियह ए-के-47 राइफल ओसामा बिन लादेन का ही है।

सीआईए की इस म्यूजियम में प्रथम विश्व युद्ध में इस्तेमाल किए गए तमाम उपकरण, जासूसी यंत्र तथा युद्ध से जुडे अन्य सामानों को प्रदर्शित किया गया है। आम लोग ओसामा के इस राइफल का दीदार नहीं कर पाएंगे क्योंकि यह म्यूजियम आम लोगों के लिए बंद रहता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You