भारत ने जिन्ना के भाषणों की रिकॉर्डिंग पाकिस्तान को सौंपी

  • भारत ने जिन्ना के भाषणों की रिकॉर्डिंग पाकिस्तान को सौंपी
You Are HereInternational
Thursday, September 05, 2013-1:05 AM

इस्लामाबाद: भारत ने पाकिस्तान के संस्थापक मुहम्मद अली जिन्ना के दो अहम भाषणों की रिकॉर्डिंग पाकिस्तानी सरकार के सुपुर्द कर दी है। इस कदम का यहां स्वागत किया गया है। जिन्ना के इन भाषणों में से एक बंटवारे से दो महीने पहले तीन जून, 1947 को दिया गया था।

इसमें जिन्ना पश्चिमोत्तर पाकिस्तान में पाकिस्तान अथवा भारत के साथ जाने को लेकर जनमत संग्रह कराए जाने पर प्रतिक्रिया दे रहे हैं। दूसरा भाषण 14 अगस्त, 1947 को दिया गया था। इसमें जिन्ना ‘पाकिस्तान में सभी समुदायों की भलाई’ के बारे में बात कर रहे हैं। पाकिस्तान रेडियो के समसामयिक मामलों के प्रमुख जावेद खान जदून ने पीटीआई को बताया, ‘‘हमें दोनों भाषण मिल गए हैं। हम बहुत खुश हैं और आकाशवाणी के शुक्रगुजार हैं।’’

उन्होंने कहा कि दोनों भाषण इंटरनेट के जरिए मिले तथा अधिकारियों ने इन्हें डाउनलोड किया और फिर इनकी एक सीडी बनाई। जदून ने कहा, अब यह हमारे अभिलेखागार का हिस्सा होगा। मैंने आकाशवाणी के निदेशक से कल बात की और उन्होंने 1947 के पहले के भाषणों की जरूरत पडऩे पर हमें पूरी मदद मुहैया कराने का वादा किया है। यह पूछे जाने पर कि इन भाषणों को पाकिस्तान में कब प्रसारित किया जाएगा, तो जदून ने कहा कि इस बारे में संपादकीय निर्णय अभी लिया जाना बाकी है।

पिछले साल 29 मार्च को पाकिस्तान प्रसारण निगम के तत्कालीन प्रमुख मुर्तजा सोलांगी ने आकाशवाणी महानिदेशक लीलाधर मंदलोई से आग्रह किया था कि कराची में जिन्ना द्वारा राष्ट्रपति के तौर पर दिए गए पहले भाषण की रिकॉर्डिंग मुहैया कराई जाए। सोलांगी ने नवंबर, 2011 में आकाशवाणी का दौरा किया था और उस दौरान उन्हें बताया गया था कि जिन्ना के भाषणों की रिकॉडिंग मौजूद है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You