कोड़े खाने को तैयार, लेकिन नहीं पहनेगी ‘हिजाब’

  • कोड़े खाने को तैयार, लेकिन नहीं पहनेगी ‘हिजाब’
You Are HereInternational
Tuesday, September 10, 2013-12:04 PM

खार्तूम: सूडान की रहने वाली एक मुस्लिम महिला ने हिजाब पहनने से इंकार करते हुए कहा कि वह तालिबान जैसे कानून का पालन नहीं करेगी और इसके लिए वह  कोड़े खाने को भी तैयार है। अमीरा ओसमान हमीद पर धारा 152 (अशोभनीय कपड़े पहनना) के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है, जिसकी सुनवाई 19 सितंबर को होगी।

इस आरोप के तहत अगर अमीरा को दोषी पाया गया तो उसे कोड़े मारे जा सकते हैं। सूडान में यह कानून हैं कि हर महिला को अपना सिर हिजाब से ढकना पड़ता हैं, लेकिन अमीरा ने इसे पहनने से इंकार कर दिया। अमीरा के इस निर्णय में कई कार्यकर्ता भी उसका साथ दे रहे हैं। अमीरा ने बताया कि जब 27 अगस्‍त को वह राजधानी खार्तूम में एक सरकारी अधिकारी से मिलने गई तो एक पुलिसवाले ने गुस्से में उसे सिर ढकने को कहा।

अमीरा ने बताया कि पुविसवाले ने उससे कहा कि तुम सूडानी नहीं हो, तुम्हारा धर्म क्या हैं? तो उसने जबाव में कहा कि मैं सूडानी हूं, मैं मुस्लिम हूं और मैं अपना सिर नहीं ढकूंगी। गौरतलब हैं कि इससे पहले साल 2009 में महिला पत्रकार लुबना अहमद अल-हुसैन पर सार्वजनिक रूप से स्‍लैक्‍स पहनने के आरोप में जुर्माना लगाया गया, जिसे देने से इंकार करने पर उसे जेल में रहना पड़ा था। इसके बाद सूडान की पत्रकार यूनियन ने उसका जुर्मान भरकर उसे जेल से छुड़वाया था। इस मामले ने भी सूडान में महिला अधिकारों की तरफ पूरी दुनिया का ध्‍यान खींचा था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You