सीरिया पर हमले से पीछे हटे ओबामा, रूस ने निकाला बीच का रास्ता

  • सीरिया पर हमले से पीछे हटे ओबामा, रूस ने निकाला बीच का रास्ता
You Are HereInternational
Tuesday, September 10, 2013-6:27 AM

वाशिंगटन: सीरिया पर हमले को लेकर अंतरराष्ट्रीय जगत के साथ-साथ अमेरिकी जनमानस और अपने ही सांसदों के विरोध को भांपकर राष्ट्रपति बराक ओबामा ने रूस के प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए कहा है कि यदि सीरिया अपने रासायनिक हथियार सौंप दे तो हमले की योजना रद्द की जा सकती  है।

ओबामा ने कहा कि यदि सीरिया अपने रासायनिक हथियारों के जखीरे को अंतरराष्ट्रीय नियंत्रण में देने को तैयार हो जाए तो उस पर सैन्य कार्रवाई रद्द की जा सकती है। ओबामा ने कहा, ‘मैं चाहता हूं कि रासायनिक हथियारों पर अंतरराष्ट्रीय मानकों का पालन हो। यह हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के हित में हैं। यदि हम यह काम बिना सैन्य कार्रवाई के कर सकें तो इससे अच्छा हमारे लिए और कुछ नहीं हो सकता।’

सीरिया पर हमले के कट्टर विरोधी रूस ने सबसे पहले प्रस्ताव किया कि सीरिया अपने रासायनिक हथियार सौंपने की हामी भरे। रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि उन्होंने सीरिया के विदेश मंत्री वालिद मौलेम के साथ बातचीत में प्रस्ताव रखा है कि वह अपने रासायनिक हथियारों के जखीरे अंतरराष्ट्रीय नियंत्रण में सौंपे। लावरोव ने यह भी कहा कि सीरिया रासायनिक हथियार संधि में पूरी तरह शामिल हो। मौलेन ने संवाददाताओं से कहा वह रूस की पहल का स्वागत करते हैं। उन्होंने सीरिया की जनता के खिलाफ अमेरिकी आक्रमण को रोकने की कोशिश के लिए रूस के प्रयास की प्रशंसा की।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You