'सीरियाई सुरक्षा बल जनसंहार के जिम्मेदार'

  • 'सीरियाई सुरक्षा बल जनसंहार के जिम्मेदार'
You Are HereInternational
Wednesday, September 11, 2013-10:01 PM

जेनेवाः संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार मामलों के जांचकर्ताओं ने कहा है कि सीरिया के सरकार समर्थित सुरक्षा बल गत मई में जनसंहार की दो घटनाओं को अंजाम दिया है जिनमें कम से कम 450 लोग मारे गए। 

जांचकर्ताओं की आज प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक सरकार समर्थित और विद्रोही लडाके दोनों ही युद्ध अपराधों में लिप्त हैं। दोनों ही पक्ष हत्या, अपहरण और आम लोगों पर गोलाबारी के दोषी हैं। विद्रोहियों के समर्थक गांवों बैदा और रास अल नाबा में हुए कत्ल-ए-आम मचा कर सरकार समर्थित बलों ने यह संदेश देने का प्रयास किया कि विद्रोहियों का साथ देने पर खमियाजा भुगतना पडेगा।

बैदा में 150 से 200 लोग मारे गये और रास अल नाबा में भी इतनी ही संख्या में लोगों को अपनी जान गवांनी पडी। गौरतलब है कि जांच आयोग को सीरिया के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी गई थी लेकिन उसके 20 सदस्यों ने शरणार्थियों, भगोडों और अन्य लोगों से 258 साक्षात्कार के जरिये हालात का पता लगाया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You