जनरल कयानी के बाद कौन ?

  • जनरल कयानी के बाद कौन ?
You Are HereInternational
Friday, September 13, 2013-1:33 PM

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल अशफाक परवेज कयानी का कार्यकाल नवंबर में पूरा होने जा रहा है और यहां राजनीतिक हल्कों तथा सत्ता के गलियारों में उनके उत्तराधिकारी को लेकर शीर्ष जनरलों के नामों पर चर्चा हो रही है। असैन्य सरकार द्वारा सैन्य पदों पर नियुक्तियों को लेकर बीते समय में हुई मुश्किलों के मद्देनजर अगले सेना प्रमुख की नियुक्ति को लेकर सबका ध्यान इस ओर है।

चर्चा में कई नाम हैं और वर्तमान में फौज के लॉजिस्टिक स्टाफ के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल हारून असलम इस दौड़ में सबसे आगे नजर आते हैं। असलम सैन्य अभियान निदेशक, एलाइट फोर्स डिवीजन (विशेष सेवा समूह) की कमान संभाल चुके हैं और भावलपुर के कोर कमांडर रह चुके हैं। उन्होंने 2009 में स्वात में आतंकवाद विरोधी अभियान का भी सफलतापूर्वक नेतृत्व किया था। वह अगले साल 9 अप्रैल को सेवानिवृत्त होंगे।

दो अन्य के नाम पर भी उनकी वरिष्ठता के हिसाब से प्रमुखता से चर्चा हो रही है जिनमें लेफ्टिनेंट जनरल राशिद महमूद और लेफ्टिनेंट जनरल रहील शरीफ शामिल हैं। इनके बाद मांगला में 1 स्ट्राइक कोर के कमांडर और लेफ्टिनेंट जनरल तारिक खान तथा तत्कालीन आईएसआई प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल जहीर उल इस्लाम का नाम आता है।

नए सेना प्रमुख की नियुक्ति पर चर्चा ऐसे समय चल रही है जब पाकिस्तान बड़े राष्ट्रीय सुरक्षा मुद्दों से जूझ रहा है।  सरकार पाकिस्तानी तालिबान तथा अन्य आतंकी समूहों से शांति वार्ता के शुरूआती चरण में भी है। कयानी (61) को पूर्व सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ ने 2007 में सेना प्रमुख नियुक्त किया था। 2010 में उन्हें तत्कालीन प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने तीन साल का अभूतपूर्व विस्तार दिया था। वह 28 नवंबर को सेवानिवृत्त होने जा रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You