आतंकवाद के खिलाफ जंग का अंतिम हथियार है सेनाः नवाज शरीफ

  • आतंकवाद के खिलाफ जंग का अंतिम हथियार है सेनाः नवाज शरीफ
You Are HereInternational
Wednesday, September 18, 2013-3:03 AM

अंकाराः पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा है कि आतंकवाद से निपटने के कई विकल्प हैं इसीलिए सैन्य ताकत का इस्तेमाल इस जंग का आखिरी हथियार होना चाहिए। तुर्की के दौरे पर आए श्री शरीफ ने यहां की मीडिया को दिए गए साक्षात्कार में कहा कि उनकी सरकार निर्दोष लोगों की जान से नहीं खेलना चाहती है इसीलिए आतंकवाद के खिलाफ जारी जंग में सेना का आखिरी विकल्प के रप में इस्तेमाल किया जाएगा।

उन्होंने कहा, हमारी चुनौती अपने बीच से आतंकवाद की जड़ को निकालना है। पाकिस्तान को इसके लिये अंतरराष्ट्रीय समुदाय, हमारे पडोसियों की सहायता की जरूरत है ताकि हम आतंकवादियों के फंड, हथियार की आपूर्ति और प्रशिक्षण पर लगाम लगा सकें। श्री शरीफ ने कहा कि वह पडोसी देश भारत से गंभीर और रचनात्मक रिश्ता बनाना चाहते हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You