" वैश्विक मंच पर भारत, अमेरिका का भागीदार बनना तय "

You Are HereInternational
Thursday, September 19, 2013-9:17 AM

वाशिंगटन: अमेरिकी उप रक्षा मंत्री ऐश्टन कार्टर की सफल भारत यात्रा के खत्म होने के बाद पेंटागन ने कहा कि भारत और अमेरिका के बीच समान मूल्यों और बहुत से मुद्दों पर समान दृष्टिकोण होने की वजह से उनका वैश्विक मंच पर भागीदार बनना तय है।  पेंटागन के प्रेस सचिव जॉर्ज लिटिल ने कल यहां कहा कि कार्टर ने भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शिवशंकर मेनन, विदेश सचिव सुजाता सिंह और रक्षा सचिव राधाकृष्ण माथुर के साथ अपनी बैठकों में दोहराया था कि अमेरिका और भारत के बीच समान मूल्यों और बहुत सारे मुद्दों पर समान दृष्टिकोण की वजह से उनका ‘‘वैश्विक मंच पर भागीदार बनना तय है’’।

गत 16 सितंबर से 18 सितंबर के बीच की अपनी भारत यात्रा में कार्टर ने भारतीय अधिकारियों के साथ वाशिंगटन में होने वाली अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की बैठक और दोनों देशों के बहुआगामी रक्षा संबंधों को मजबूत करने के   कदमों पर चर्चा की।  लिटिल ने कहा, ‘‘उन्होंने अफगानिस्तान में जारी राजनीतिक एवं सुरक्षा बदलावों तथा क्षेत्रीय सुरक्षा के दूसरे मुद्दों, समान बहुपक्षीय मुद्दों, संयुक्त सैन्य अभ्यासों और दोनों देशों के बीच महत्वपूर्ण एवं प्रगतिशील रक्षा व्यापार पर गहन चर्चा की।’’
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You