बच्चे के साहस के सामने पिघला आतंकी का दिल

  • बच्चे के साहस के सामने पिघला आतंकी का दिल
You Are HereInternational
Wednesday, September 25, 2013-2:51 PM

नैरोबी: केन्या की राजधानी नैरोबी में पिछले चार दिन से चले आ रहे माल पर हुए आतंकी हमले का संकट समाप्त हो गया है। इस हमले में विदेशियों समेत 67 नागरिक मारे गए हैं। केन्या सरकार ने दावा किया है कि आतंकवादियों को ‘पराजित’ कर 11 आतंकवादियों को पकड़ा हैं। वही इस हमले के दौरान मॉल में चार साल के एक बच्चे के बच्चे ने ऐसा साहस दिखाया कि आतंकवादी का दिल भी पिघल गया और उसने उन्हें छोड़ दिया।

बच्चे के अंकल के मुताबिक, आतंकवादी जब गोलियां बरसा रहे थे, तो बच्चे की मां को जांघ में गोली लग गई। जिसके बाद एलियट प्रायर ने बंदूकधारी जिहादी से कहा कि तुम बहुत गंदे आदमी हो, हमें छोड़ दो। इस पर आतंकवादी का दिल पिघल गया और उसने एलियट और उसकी छह साल की बहन एमेली को चॉकलेट दी और उन्हें उनकी मां सहित शॉपिंग मॉल से बाहर जाने दिया। जब वे मॉल से जाने लगे तो आतंकवादी ने उन्हें दोबारा ‌बुलाकर कहा कि मुझे माफ करना। हम शैतान नहीं हैं। वे सिर्फ कीनियाई और अमेरिकी नागरिकों को मारना चाहते हैं, ‌ब्रिटिश को नहीं। आतंकवादी ने उन्हें इस्लाम ग्रहण करने को कहा। एलियट के अंकल एलेक्स कूट्स ने कहा, वे खुशकिस्मत रहे कि वह बच गए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You