नई पर्यावरण रिपोर्ट है ‘अलार्म क्लॉक मूमेंट’: संयुक्त राष्ट्र

  • नई पर्यावरण रिपोर्ट है ‘अलार्म क्लॉक मूमेंट’: संयुक्त राष्ट्र
You Are HereInternational
Friday, September 27, 2013-10:27 AM

संयुक्त राष्ट: संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण के प्रमुख ने कहा है कि जलवायु परिवर्तन पर प्रतिष्ठित वैज्ञानिक रिपोर्ट पूरी दुनिया के लिए एक ‘अलार्म क्लॉक मूमेंट’ की तरह होगी।  संयुक्त राष्ट्र की बहुप्रतीक्षित रिपोर्ट का सारांश शुक्रवार को स्टॉकहोम में जारी किया जाएगा। ऐसा माना जा रहा है कि इस रिपोर्ट में जलवायु परिवर्तन से बढ़ते हुए खतरे पर जोर दिया जाएगा। यूएन फ्रेमवर्क कन्वेंशन ऑन क्लाइमेट चेंज की कार्यकारी सचिव क्रिस्टियाना फिगुअर्स ने कहा, ‘‘यह रिपोर्ट दुनिया के लिए एक ‘अलार्म क्लॉक मूमेंट’ पैदा करती है।’’

उन्होंने संयुक्तराष्ट्र महासभा में संवाददाताओं को बताया, ‘‘यह हमें बताएगी कि जलवायु परिवर्तन के बारे में हम जो कुछ भी जानते थे, उसे दरअसल कम आंका गया है।’’ एएफपी द्वारा इस सारांश का जो मसविदा देखा गया है, उसमें इस बात पर जोर दिया गया है कि जलवायु परिवर्तन बढ़ रहा है और इसके लिए इंसान जिम्मेदार हैं। फिगुअर्स ने कहा, ‘‘सवाल यह उठता है कि सरकारें इसके लिए क्या कर रही हैं?’’

संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व वाली अंतर्राष्ट्रीय वार्ताओं में जलवायु परिवर्तन को नियंत्रित करने के लिए यह लक्ष्य रखा गया है कि इसका स्तर विश्व में औद्योगिकीकरण की शुरूआत से पूर्व रहे स्तर से 2.0 डिग्री सेल्सियस से अधिक नहीं हो। फिगुअर्स ने कहा, ‘‘यह स्पष्ट है कि अभी हम जो कार्यवाहियां कर रहे हैं या जो संकल्प हमने लिए हैं, उनसे लक्ष्य पूरी तरह हासिल नहीं होने वाला।’’ संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की-मून ने सितंबर 2014 में जलवायु परिवर्तन पर एक बैठक बुलाई है। यह बैठक पेरिस में जलवायु परिवर्तन पर एक नई अंतर्राष्ट्रीय संधि को मंजूरी देने के एक वर्ष पहले होगी।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You