ओबामा के सामने आतंकवाद के मसले को उठाएंगे प्रधानमंत्री

  • ओबामा के सामने आतंकवाद के मसले को उठाएंगे प्रधानमंत्री
You Are HereInternational
Friday, September 27, 2013-10:41 AM

वाशिंगटन: जम्मू में हाल में हुए आतंकवादी हमलों की पृष्ठभूमि में आज यहां होने जा रही बैठक के दौरान प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के सामने पाकिस्तान की जमीन से काम कर रहे लश्कर-ए-तैयबा की जारी गतिविधियों और जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद के आजाद घूमने को लेकर भारत की चिंताओं को उठा सकते  है। अमेरिका में भारत की राजदूत निरपमा राव ने बैठक से पहले यह संकेत देते हुए संवाददाताओं से कहा कि भारत सीमा पार से जारी आतंकवाद पर अपनी चिंताओं को व्यक्त करेगा।

लश्कर अब वैश्विक आतंक नेटवर्क का हिस्सा बन गया है और यह एक से अधिक देशों के लिए खतरा है। यह पूछने पर कि अमेरिका ने हाफिज सईद पर एक करोड़ डॉलर का ईनाम घोषित किया है और यह बैठक जम्मू में कल हुए दोहरे हमलों की पृष्ठभूमि में हो रही है, तो क्या ऐसे समय पर ओबामा के साथ बातचीत के दौरान लश्कर और हाफिज सईद की गतिविधियों का मामला उठाया जाएगा, उन्होंने कहा, ‘‘हमने इस मामले को रडार से बाहर नहीं जाने दिया है। लश्कर-ए-तैयबा और हाफिज सईद की गतिविधियों संबंधी चिंताओं के मामले अमेरिका के साथ बातचीत के एजेंडे में शामिल हैं।’’
 


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You