ड्रोन हमला पाकिस्तान की नीतियों को प्रभावित करेगा

  • ड्रोन हमला पाकिस्तान की नीतियों को प्रभावित करेगा
You Are HereInternational
Friday, September 27, 2013-2:40 PM

न्यूयार्क:  पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा है कि अमेरिकी आपत्ति के बावजूद वह ईरान से गैस पाइपलाइन परियोजना पर काम करेंगे। उन्होंने वाल स्ट्रीट जर्नल से एक भेंटवार्ता में कहा कि वह संयुक्त राष्ट्र में अपने संबोधन में पाकिस्तान में अमेरिकी ड्रोन हमले की आलोचना करेंगे। श्री शरीफ ने कहा कि पाकिस्तानी तालिबान को शांति वार्ता में शामिल होने से पहले कुछ शर्ते स्वीकार करनी होंगी। उन्होंने कहा कि तालिबान को हथियारों को अलविदा कहने के साथ पाकिस्तान के संविधान को स्वीकार करना होगा। उन्होंने आशंका व्यक्त की कि लगातार ड्रोन हमलों से पाकिस्तानी तालिबान से बातचीत की उनकी नीति बेकार हो जाएगी।

ईरान गैस पाइप लाइन के बारे में श्री शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान को गैस की बहुत आवश्यकता है। हमें ऊर्जा सयंत्रों को चलाने के लिए गैस चाहिए। पाकिस्तान में गैस की बहुत कमी है, इसलिए कहीं से भी गैस का आयात करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि इस्लामाबाद में कानून के जानकारों को कहना है कि पाइपलाइन के कारण प्रतिबंध नहीं लग सकता। श्री शरीफ ने कहा हमें गैस दीजिए या 30 लाख डॉलर प्रति दिन के हिसाब से दीजिए जिसका हमें नुकसान उठाना पड़ रहा है।
   
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You