ईरान के राष्ट्रपति पर फेंका गया जूता..

  • ईरान के राष्ट्रपति पर फेंका गया जूता..
You Are HereInternational
Sunday, September 29, 2013-1:05 PM

तेहरान: अमेरिका से नजदीकी बनाने की कोशिश में लगे ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी का स्वागत उनके देश में जूते से किया गया। रूहानी ने इस तरह अपना नाम अब अमेरिकी राष्ट्रपति जार्ज डब्ल्यू बुश से जोड़ लिया है। बुश ऐसे पहले राजनेता थे, जिन पर जूता फेंका गया था। तब से पूरी दुनिया में ऐसे कई वाकये हुए। रूहानी के अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा से बात करने की खबर फैलते ही लोगों का गुस्सा फूट पडा और उन्होंने अपने गुस्से का इजहार उनके काफिले पर जूता फेंक कर किया।

‘द गार्डियन’ के मुताबिक रूहानी संयुक्त राष्ट्र के सम्मेलन में हिस्सा लेने देश के बाहर गए थे  और आज उनके तेहरान के मेहराबाद हवाई अड्डे से बाहर निकलते हुए ‘अमेरिका मुर्दाबाद’ , ‘इजरायल मुर्दाबाद’ के नारे लगाती हुई लगभग 60 लोगों की उग्र भीड ने उनके काफिले का स्वागत किया।  इसी बीच, भीड में से किसी ने रूहानी की कार पर जूता फेंका लेकिन यह जूता कार तक नहीं पहुंच पाया। रूहानी ने इसी समय अपनी कार में खडे होकर लोगों को संबोधित किया।

उल्लेखनीय है कि 14 दिसंबर 2008 को पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बुश पर इराक में एक पत्रकार मुनताधर अल जैदी ने जूता फेंका था। इसके छह दिन बाद यूक्रेन में राष्ट्रपति पर जूता फेंका गया। दो फरवरी 2009 को चीन के प्रधानमंत्री वेन जियाबाओ पर ब्रिटेन कैंब्रिज विश्वविद्यालय में जूता फेंका जा चुका है। इसी तरह पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति आसिफ अल जरदारी पर सात अगस्त 2010 को ब्रिटेन में जूता फेंका गया था। दुनिया भर में कई जगह जैसे भारत, हांगकांग और आस्ट्रेलिया आदि में राजनीतिज्ञों पर अलग अलग कारणों से जूते फेंके जा चुके हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You