युद्ध अपराधों के मामले में बीएनपी नेता को मौत की सजा

  • युद्ध अपराधों के मामले में बीएनपी नेता को मौत की सजा
You Are HereInternational
Tuesday, October 01, 2013-2:43 PM

ढाका: बांग्लादेश की एक विशेष पंचाट ने 1971 के मुक्ति संग्राम के दौरान पाकिस्तानी सैनिकों के साथ मिलकर मानवता के खिलाफ अपराधों को अंजाम देने के मामले में विपक्षी बीएनपी पार्टी के वरिष्ठ और प्रभावशाली नेता सलाहुद्दीन कादिर चौधरी को आज मौत की सजा सुनाई। तीन सदस्यीय अंतरराष्ट्रीय अपराध पंचाट 1 के अध्यक्ष ने खचाखच भरे अदालत कक्ष में सजा सुनाते हुए कहा, ‘‘उन्हें (चौधरी) अंतिम सांस तक फंदे पर लटकाया जाए।’’ पंचाट ने ढाई घंटे से अधिक समय तक पढ़े अपने फैसले में कुछ टिप्पणियां भी कीं। पंचाट ने कहा कि 65 वर्षीय चौधरी के खिलाफ 23 में से नौ मामले बिना किसी संदेह के साबित हो चुके हैं, जिनमें से चार मामलों में उन्हें मौत की सजा दी जाती है ।

फैसले के समय चौधरी अपने परिजनों के साथ अदालत कक्ष में मौजूद थे। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि चौधरी ने फैसले को ‘‘पूर्व निर्धारित फैसला’’ करार दिया और जजों द्वारा 172 पन्नों के फैसले का सार पढ़े जाने के दौरान उनके रिश्तेदारों ने भी अपमानजनक टिप्पणियां करना शुरू कर दिया।  एक उच्च अधिकार प्राप्त पंचाट द्वारा पाकिस्तानी सैनिकों के साथ मिलकर मानवता के खिलाफ अंजाम दिए गए अपराधों से जुड़े 23 मामलों में 17 माह पहले चौधरी को दोषी ठहराया गया था। पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया की अगुवाई वाली बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी के दो नेताओं में से चौधरी एक हैं, जिन पर 1971 के युद्ध अपराधों के लिए मुकदमा चला लेकिन मुख्य विपक्षी दल ने चौधरी के मामले या फैसले पर अभी तक कोई प्रतिक्रिया जाहिर नहीं की है ।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You