राष्ट्रमंडल से बाहर हुआ गांबिया

  • राष्ट्रमंडल से बाहर हुआ गांबिया
You Are HereInternational
Thursday, October 03, 2013-11:07 AM

बांजुल: पश्चिमी अफ्रीकी देश गांबिया ने ब्रिटेन के उपनिवेश रहे 54 देशों के समूह राष्ट्रमंडल से अपनी सदस्यता यह कहकर वापिस ले ली है कि यह नवउपनिवेशवाद का प्रतीक है। सरकारी टेलीवीजन पर जारी किए गए एक आधिकारिक बयान में कहा, ''सरकार ने ब्रिटिश राष्ट्रमंडल से अपनी सदस्यता वापिस ले ली है और यह निर्णय लिया है कि गांबिया अब कभी भी ऐसी किसी नवउपनिवेशवादी संस्था का सदस्य नहीं रहेगा, जो सामाजवाद का विस्तार हो।''

हालांकि इस फैसले में कोई और स्पष्टीकरण नहीं दिया गया है। गांबिया राष्ट्रमंडल देशों के समूह में 1965 में शामिल हुआ था। गौरतलब है कि 1944 में सैन्य विद्रोह के बाद सत्ता में आए राष्ट्रपति याहया जामेह और ब्रिटेन के बीच संबंधों को लेकर काफी तनातनी रही है। जामेह का कहना है कि वर्ष 2011 के चुनावों में ब्रिटेन ने विपक्षी दलों की मदद की थी। उधर ब्रिटिश सरकार का कहना है कि उसका मानवाधिकार रिकार्ड बहुत बदतर है और राजनीतिक विरोधियों तथा समलैंगिकों पर अत्याचार किए जाते हैं। पिछले हफ्ते संयुक्त राष्ट्र महासभा में जामेह ने समलैंगिकता को मानव अस्तित्व के लिए खतरा बताया था और इसे मानवाधिकार बताने वाले देशों की कड़ी निंदा की थी।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You