टैक्‍स से बचना है तो कर सकते हैं शादी!

  • टैक्‍स से बचना है तो कर सकते हैं शादी!
You Are HereInternational
Thursday, October 03, 2013-1:42 PM

लंदन: ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन को मानना हैं कि विवाहित जोड़ों को टैक्स में रियायत देना सामाजिक व आर्थिक दृष्टि से सही फैसला हैं। प्रधानमंत्री के इस फैसले को चर्च ऑफ़ इंग्लैंड के प्रमुख ने भी सराहा है। वर्ष 2015 से लागू होने वाली इस योजना से चालीस लाख विवाहित जोड़ों को फायदा होगा। इस योजना से उन्हें टैक्स में 200 पाउंड यानी तकऱीबन 20 हज़ार रूपए की छूट मिलेगी।

इस प्रस्ताव में यह देखने को मिला कि किस तरह से राजनीतिक और सामाजिक दृष्टि से आधुनिकता का दावा करने वाले देशों में परंपरावादी मूल्यों पर चलने वालों को किस तरह के समझौते करने पड़ते हैं। टैक्स में छूट की इस योजना का उद्देश्य वैसे तो विवाह की संस्था को मज़बूत बनाना है, लेकिन 15 हज़ार से अधिक समलैंगिकों को भी सिविल पार्टनरशिप की वजह से इसका लाभ देना पड़ रहा है। हालांकि चर्च ऑफ़ इंग्लैंड के प्रमुख और डेविड कैमरन समलैंगिकों में विवाह की संस्था को मज़बूत करने के पक्षधर नहीं होंगे।

परंतु कानूनी तौर पर उन्हें टैक्स में छूट के लाभ से वंचित नहीं किया जा सकता। ब्रिटेन में इस प्रस्ताव के सामने आने के बाद पूरे देश में क्लिक करें शादी को लेकर एक दिलचस्प बहस छिड़ गई है। इस बारे में एक कॉमेडियन का कहना हैं कि शादी को बढ़ावा देना है तो बिना शादी किए साथ रहने वाले लोगों पर टैक्स लगाया जाना चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You