अदालत ने दी लड़के को लड़कियों के टॉयलेट में जाने की इजाजत

  • अदालत ने दी लड़के को लड़कियों के टॉयलेट में जाने की इजाजत
You Are HereInternational
Sunday, October 06, 2013-1:32 PM

कोलाराडो: शरीर से लड़का होने के बावजूद उसकी हरकते, चाल-ढाल और पहनावा बिल्कुल लड़कियों के जैसी है। दरअसल कोए मेथिस एक ट्रांसजेंडर है। क्रेजीन्यूज 24 की खबर की जानकारी के अनुसार, कोए मेथिस लड़का होकर भी लड़की है। जहां कोए के इस अनोखे रूप से उसके माता-पिता को कोई मुश्किल नहीं है, वहीं दूसरी तरफ उसे अपने स्कूल में बहुत कुछ झेलना पड़ता है। तनाव और मुश्किलें इस हद तक बढ़ गई कि कोए के माता-पिता को अदालत का दरवाजा खटखटाना पड़ा।

बात दरअसल यह थी कि कोए को स्कूल में कहा गया था कि वह लड़कियों का टॉयलेट इस्तेमाल नहीं कर सकता। यदि उसे टॉयलेट जाना है तो वह टीचिंग या नर्स स्टाफ के लिए बने टॉयलेट इस्तेमाल कर ले। लेकिन कोए के माता पिता को यह बात अच्छी नहीं लगी। उनकी इच्छा यह थी कि उनकी ट्रांसजेंडर संतान वह सब करे जो लड़कियां करती हैं। इस लिए उन्होंने कोलाराडो की सिविल राइट डिवीजन में स्कूल के खिलाफ एक शिकायत की थी। शिकायत के बाद उसे लड़कियों का टॉयलेट इस्तेमाल करने की इजाजत मिल गई। लड़की के माता-पिता और खुद कोए इस फैसले से बहुत खुश है।




 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You