अल लीबी को ब्रिटेन में दी गई थी शरण

  • अल लीबी को ब्रिटेन में दी गई थी शरण
You Are HereInternational
Monday, October 07, 2013-1:09 PM

लंदन: केन्या और तन्जानिया में 1998 में अमेरिकी दूतावास में बम धमाकों के 15 साल से फरार आरोपी अबु अनास अल लीबी को 1995 में राजनीतिक शरण दी गई थी। ब्रिटेन के समाचार पत्र 'डेली टेलीग्राफ' की एक रिपोर्ट में किए गए इस सनसनीखेज खुलासे में बताया गया कि अमेरिका की खुफिया सेवा एफबीआई मोस्ट वांटेड अपराधियों की सूची में शामिल अल लीबी को ब्रिटेन में राजनीतिक शरण दी गई थी। रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि ब्रिटेन में निचले सदन 'हाउस आफ कामंस' के गृह मामलों से जुड़ी समिति की अध्यक्ष कीथ वैज ने अल लीबी मामले को गृहमंत्री के साथ उठाने की बात कही है।

अमेरिकी सेना ने शनिवार को लीबिया की राजधानी त्रिपोली में डेल्टा अभियान में अलकायदा के इस मुख्य कम्प्यूटर विशेषज्ञ को उस समय गिरफ्तार कर लिया गया था, जब वह अपनी कार पार्क कर रहा था। वैज ने कहा, ''हम इस मामले में गृहमंत्री से बात करेंगे। शरण देने के मुद्दे पर यह हमारे लिए बेहद महत्वपूर्ण है हम इस बात की गंभीरता से तहकीकात करेंगे कि उसके द्वारा जमा किए गए कागजातों की सही ढंग से पड़ताल की गई थी या नहीं।''

ब्रिटेन की विदेश मंत्री को एक वांछित आतंकवादी को राजनीतिक शरण दिए जाने के मामले में सवालों का सामना करना होगा और बताना होगा कि इस फरार आतंकवादी को देश में शरण कैसे दी गई। रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि पुलिस ने अल लीबी को हिरासत में लेकर उससे विस्फोट के मामले में पूछताछ की थी, लेकिन उसे बाद में छोड़ दिया गया था और वह ब्रिटेन आ गया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You