गतिरोध दूर करने में फिर नाकाम रहा अमेरिका

  • गतिरोध दूर करने में फिर नाकाम रहा अमेरिका
You Are HereInternational
Wednesday, October 16, 2013-6:45 AM

वाशिंगटन: पिछले 15 दिनों से जारी गतिरोध को दूर करने में अमेरिकी संसद कल एक बार फिर नाकाम रही। सरकार की ऋण सीमा बढ़ाने और किसी बड़े आर्थिक संकट को टालने के लिए कल दिनभर की कोशिश के बावजूद नतीजा शिफर रहा।

डेमोक्रेट बहुल सीनेट और रिपब्लिकन बहुल प्रतिनिधि सभा कोई ऐसा प्रस्ताव नहीं बना सकी जिस पर दोनों दल सहमत हों। यदि आज भी दोनों दल किसी समझौते पर नहीं पहुंचे तो अमेरिकी अर्थव्यवस्था सचमुच बड़े संकट में पड़ जायेगी। फिच ने कल अमेरिका की रेटिंग एएए से गिराने की धमकी दी है।

धीरज के साथ 15 दिन तक किसी समाधान का इंतजार करने के बाद न्यूयार्क शेयर बाजार कल 133 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ। ग्लोब की दूसरी ओर जब पूर्वी एशिया और आस्ट्रलिया में बाजार खुले तो वहां की मुद्राओं के मुकाबले डालर की कीमत में गिरावट दर्ज की गई। लेकिन राष्ट्रपति बराक ओबामा अभी भी आशांवित हैं कि इस समस्या कोई न कोई हल निकल आयेगा।

ओबामा ने डब्ल्यू.ए.बी.सी. टेलीविजन चैनल के साथ साक्षात्कार में कहा मुझे उम्मीद है कि यह हल हो जायेगा। लेकिन हमारे पास समय काफी कम है। हमें बहुत अधिक दिखावा करने की जरूरत नहीं है। हमें चेहरा छुपाने भी जरूरत नहीं है। हमें राजनीति की चिंता नहीं करनी चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You