भारतीय अमेरिकी छात्र को दोस्त की हत्या के आरोप में नहीं मिली जमानत

  • भारतीय अमेरिकी छात्र को दोस्त की हत्या के आरोप में नहीं मिली जमानत
You Are HereInternational
Wednesday, October 16, 2013-10:02 AM

वॉशिंगटन: हाई स्कूल में पढ़ रहे अपने एक दोस्त को मार डालने के आरोपी एक भारतीय अमेरिकी छात्र को मैरीलैंड की एक स्थानीय अदालत से जमानत नहीं मिल सकी। राहुल गुप्ता को रविवार को अपने मित्र, 23 वर्षीय एडवर्ड वाग को मार डालने के आरोप में, मोन्टेगोमरी काउंटी स्थित उसके अपार्टमेंट से गिरफ्तार किया गया। बताया जाता है कि उसने वाग को अपनी मित्र के साथ प्रेम संबंधों की वजह से मारा। राहुल ने चाकू से वाग पर कई वार किए।

इस घटना के दौरान अपार्टमेंट में राहुल, वाग के अलावा उसकी मित्र भी थी। कल अदालत में सुनवाई के दौरान बायोकैमिकल इंजीनियरिंग के 24 वर्षीय छात्र राहुल को जमानत नहीं मिल पाई। वॉशिंगटन पोस्ट में सहायक अटॉर्नी स्टीफन चैकिन के हवाले से कहा गया है ‘‘हमला गंभीर था। फॉरेन्सिक प्रमाणों के अनुसार, वाग ने खुद को बचाने की कोशिश की थी।’’ अदालत ने जमानत के लिए 20 लाख डॉलर की राशि तय की थी।

राहुल के वकील रेजीनॉल्ड डब्ल्यू बौर्स ने जमानत राशि घटा कर 50,000 डॉलर करने का आग्रह किया, ताकि राहुल रिहा हो सके। सुनवाई के दौरान राहुल अदालत में नहीं था। वह वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिए सुनवाई में शामिल हुआ। अदालत में मौजूद उसके अभिभावकों ने कहा कि अगर राहुल को जमानत दे दी जाती है तो वह उसे घर पर ही रखेंगे। वह लोग नॉर्थ वर्जीनिया में एक छोटा कारोबार चलाते हैं।

शनिवार और रविवार की मध्य रात्रि को अपने दोस्त की हत्या करने के बाद राहुल ने पुलिस को बताया कि उसकी मित्र और वाग दोनों ही उसे धोखा दे रहे थे। पुलिस के अनुसार, शनिवार को राहुल, वाग और उसकी मित्र ने राहुल को जन्मदिन मनाया, जिसके बाद यह घटना हुई। पुलिस को रविवार सुबह लगभग साढ़े तीन बजे राहुल की मित्र का फोन आया। जब पुलिस वहां पहुंची तो गंभीर रूप से घायल वाग अंतिम सांसें ले रहा था।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You