एलिनोर कैटन बनी कम आयु की 'मैन बुकर विजेता'

  • एलिनोर कैटन बनी कम आयु की 'मैन बुकर विजेता'
You Are HereInternational
Wednesday, October 16, 2013-2:37 PM

लंदन: न्यूजीलैंड की लेखिका एलिनोर कैटन को उनके उपन्यास 'द लुमिनरीज' के लिए वर्ष 2013 का मैन बुकर पुरस्कार दिया गया है। 28 वर्षीय कैटन बुकर पुरस्कारों के 45 वर्ष के इतिहास में पुरस्कार पाने वाली सबसे कम आयु की लेखिका हैं। जूरी के मुखिया राबर्ट मैकफार्लेन ने 848 पन्नों वाले कैटन के दूसरे उपन्यास के लिए उनकी जमकर तारीफ की1

उन्होंने कहा, "द लुमिनरीज एक शानदार उपन्यास है। इसकी संरचना अद्भुत रूप से जटिल है, कथा शैली आपको बांधे रखती है और लालच और सोना का वर्णन जादूई है।" पचास हजार पौंड का पुरस्कार जीतने के बाद कैटन ने अपने प्रकाशक का धन्यवाद दिया, जिन्होंने उसे अपने हिसाब से लिखने की आजादी दी। 'द लुमिनरीज' 1866 के न्यूजीलैंड की कहानी है, जब काफी लोग सोने की तलाश स्वर्ण क्षेत्र आते थे।

कहानी का नायक वाल्टर मूडी भी दौलत की तलाश में स्वर्ण क्षेत्र आता है, लेकिन जल्द ही वह स्वयं को स्थानीय लोगों से घिरा पाता है जो कई अनसुलझे अपराधों की गुत्थी सुलझाने के लिए गुप्त बैठक कर रहे थे। एक अमीर आदमी लापता हो गया है, एक वैश्या ने आत्महत्या की कोशिश की है और एक गरीब शराबी के घर से अपार दौलत मिली है।

मूडी भी जल्द ही इस रहस्य का हिस्सा बन जाता है। उसके सौभाग्य और दुर्भाग्य की उठापटक को कैटन ने किसी मंझे हुए कलाकार की तरह बखूबी उकेरा है। पुरस्कार के लिए जिन पुस्तकों को अंतिम रेस में जगह मिली थी, उनमें भारतीय-अमेरिकी लेखिका झुंपा लाहिरी की 'द लोलैंड' भी शामिल है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You