अबु धाबी फिल्म महोत्सव में भारतीय फिल्मकार भी होंगे शामिल

  • अबु धाबी फिल्म महोत्सव में भारतीय फिल्मकार भी होंगे शामिल
You Are HereNational
Friday, October 18, 2013-3:14 PM

अबु धाबी: अबु धाबी में 24 अक्टूबर से शुरू होने वाले अबु धाबी फिल्म महोत्सव (एडीएफफ) में ‘100 ईयर्स ऑफ इंडियन सिनेमा 'स्टडींग द पास्ट टू डिफाइन द फ्यूचर’ विषय पर एक वार्ता कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा। इसमें भारतीय फिल्मकार भी शामिल होंगे।

एडीएफएफ की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक यह वार्ता कार्यक्रम 27 अक्टूबर को आयोजित होना है। हालांकि पैनल में शामिल होने वालों के नाम अभी जाहिर नहीं किए गए हैं। महोत्सव में अशोक अमृतराज अपनी अंतर्राष्ट्रीय टेनिस खिलाड़ी से हॉलीवुड में सफलता अर्जित करने तक की यात्रा के बारे में बताएंगे।

एडीएफएफ का यह सातवां संस्करण है। भारतीय सिनेमा के 100 साल के जश्न के तहत इस महोत्सव में भारतीय सिनेमा में एक सदी में बनी सर्वाधिक प्रशंसनीय फिल्मों का प्रदर्शन भी होगा। इनमें गुरुदत्त की ‘प्यासा’, ऋत्विक घटक की ‘सुबर्णरेखा’, ‘दुविधा’ एम.एस. सथ्यू की ‘गर्म हवा’, जाहनू बरुआ की ‘हालोदिया चोराए बोधन खाई’ जैसी फिल्में शामिल हैं।

दस दिन तक चलने वाले इस महोत्सव में हॉलीवुड से लेकर इराकी सिनेमा तक के विषयों पर चर्चा होगी।महोत्सव के निदेशक अली अल जाबरी का मानना है एडीएफएफ से स्थानीय फिल्मोद्योग का विकास होगा। उन्होंने कहा, ‘‘स्थानीय फिल्म प्रतिभा और व्यापक फिल्मोद्योग के बीच संपर्क बनाना हमारे काम का महत्वपूर्ण हिस्सा है। महोत्सव से उद्योग की बड़ी हस्तियों के साथ फिल्मकारों को अपनी फिल्मों के विकास में मदद मिलती है।’’

जाबरी ने कहा, ‘‘हमने दुनियाभर के फिल्मकारों, सह निर्माताओं, बिक्री एजेंट्स, विपणनकर्ताओं, बाजार सहायकों और फिल्म निधियों के प्रतिनिधियों को बुलाया है।’’ उन्होंने बताया कि ‘शो मी द मनी ’  पैनल में पूरी दुनिया के फिल्म निधि प्रतिनिधि अरब फिल्मकारों के लिए वित्तपोषण के अवसरों पर चर्चा करेंगे। समारोह में ‘हीरोइन्स ऑफ द सिल्वर स्क्रीन’ विषय पर भी चर्चा होगी। अरब के प्रसिद्ध फिल्मकारों की पहली फिल्मों पर आधारित कार्यक्रम ‘सिनेमेटिक डेब्यूज’ के साथ महोत्सव का समापन होगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You