नाजी युद्ध के अपराधी एरिक का शव चोरी

  • नाजी युद्ध के अपराधी एरिक का शव चोरी
You Are HereInternational
Friday, October 18, 2013-3:53 PM

रोम: नाजी युद्ध के अपराधी एरिक प्रीएबके के परिवार ने आरोप लगाया है कि उसके शव को बुधवार सुबह चुरा लिया गया। एरिक के परिवार के वकील के अनुसार शव अज्ञात जगह ले जाया गया है। वकील पाओलो गियाचिनी ने कहा, ‘‘प्रीएबके के परिवार ने मुझसे उनके शव को ढूंढऩे के मामले की जांच करने के लिए कहा है। मंगलवार रात हमें पता चला कि उनके ताबूत की हिजाफत में लगे चारों व्यक्तियों को पीटा गया। एरिक का शव चुरा लिया गया। हम नहीं जानते कि वह शव को कहां ले गए हैं।’’

एकेआई से संपर्क किए जाने पर सूत्रों ने इस दावे को नकार दिया था कि शव अभी भी रोम के नजदीक स्थित सैन्य हवाईअड्डे प्रैटिका डी मैरे पर है। नाजी युद्ध अपराधी एरिक अपने घर में नजरबंद था। सौ वर्षीय एरिक की पिछले सप्ताह रोम स्थित घर में मृत्य हुई। वह करीब 50 वर्षों तक अर्जेंटीना में रहा, लेकिन वहां उसे दफनाने की इजाजत नहीं मिली। वहीं, उनके गृहदेश जर्मनी के अधिकारियों ने भी इससे इंकार कर दिया था। वहीं, वेटिकन ने रोम के किसी भी गिरिजाघर में उसे दफनाने पर रोक लगा दी थी।

उसकी कब्र नाजियों का तीर्थस्थान न बन जाए, इस डर से शहर के मेयर ने भी यहां अंतिम संस्कार कराने की अनुमति नहीं दी। एरिक को वर्ष 1998 में रोम की सैन्य अदालत ने द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान इटली में 1944 लोगों की हत्या कराने का दोषी करार दिया था। मरने वालों में 335 पुरुष और बच्चों के अलावा 75 यहूदी भी शामिल थे। हालांकि उसने क भी नहीं माना कि यहूदियों की मौत गैस चैंबर में हुई। उसे इसका पछतावा भी नहीं था।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You