पुलिस ने मालदीव में राष्ट्रपति पद के लिए होने वाला मतदान रोका

  • पुलिस ने मालदीव में राष्ट्रपति पद के लिए होने वाला मतदान रोका
You Are HereInternational
Sunday, October 20, 2013-2:30 AM

माले: मालदीव में एक बार रद्द होने के बाद दोबारा हो रहे राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए पुलिस ने शनिवार को मतदान होने से रोक दिया जिससे देश नई राजनीतिक अनिश्चितता का शिकार हो गया है। देश के बड़े राजनीतिक दल मामले में अंतरराष्ट्रीय हस्तक्षेप की मांग कर रहे हैं।

आज सुबह मतदान शुरू होने के कुछ ही मिनट पहले चुनाव आयोग ने एक बयान जारी कर कहा कि पुलिस ने अपने अधिकारियों को मतदान व्यवस्था में भाग लेने से रोक दिया। पुलिस प्रवक्ता अब्दुल्ला नवाज ने कहा कि मतदान इसलिए रोक दिया गया है क्योंकि चुनाव आयोग मतदाता सूची को राष्ट्रपति चुनाव के सभी प्रत्याशियों से सत्यापित कराने के उच्चतम न्यायालय के आदेश का पालन नहीं कर सका है।

उन्होंने कहा कि पुलिस ने राष्ट्रपति मोहम्मद वाहिद, सुरक्षा परिषद् और गृह मंत्रालय के साथ विमर्श के बाद यह निर्णय लिया है। चुनाव आयोग के प्रमुख फवाद तौफीक ने कहा कि पुलिस ने उनके कार्यालय में प्रवेश करके उन्हें चुनावी सामग्री बांटने से रोक दिया। उन्होंने टीवी पर एक बयान में कहा, ‘यह लोकतंत्र के लिए एक काला दिन है।’ चुनाव आयोग ने पुलिस पर अपने अधिकारों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया है।

तौफीक ने कहा, ‘‘अब क्या होगा और क्या नहीं, चुनाव हो या नहीं यह पुलिस के हाथ में है।’’ उच्चतम न्यायालय द्वारा रद्द किए गए सात सिंतबर के पहले चरण के चुनाव में बहुतम हासिल करने वाले पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद के दल मालदीवियन डेमोक्रेटिक पार्टी (एमडीपी) ने इस गतिरोध को समाप्त करने के लिए अंतरराष्ट्रीय हस्तक्षेप की मांग की है। (एजेंसी)


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You