मलाला ने की शिक्षा के अधिकार के लिए संयुक्त प्रयास की मांग

  • मलाला ने की शिक्षा के अधिकार के लिए संयुक्त प्रयास की मांग
You Are HereInternational
Sunday, October 20, 2013-11:52 AM

एडिनबर्ग: मानवाधिकार कार्यकर्ता मलाला युसुफजई ने शिक्षा के अधिकार के लिए संयुक्त प्रयास किए जाने की मांग की है। पाकिस्तानी महिला मलाला युसुफजई को शिक्षा समर्थन के लिए आवाज उठाने पर तालिबानी आतंकवादियों ने उन्हें गोली मार दी थी। हालांकि, चिकित्सीय उपचार में उनकी जान बच गई थी।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ में दी जानकारी के अनुसार, 16 वर्षीय मलाला ने यूनिवर्सिटी आफ एडिनबर्ग में आयोजित ग्लोबल सिटिजनशिप कमिशन की पहली बैठक में यह मांग की। 1000 दर्शकों के सामने मलाला ने मजबूती से कहा कि हमले के बाद भी शिक्षा के लिए उनका अभियान नहीं रूकना चाहिए। उन्होंने कहा, "हम डरे हुए नहीं है। लोगों को साथ रहकर मिलजुल कर काम करना होगा।"

शुक्रवार को लंदन स्थित बकिंघम पैलेस में ब्रिटेन की महारानी से मुलाकात कर शिक्षा के महत्व पर बात करने वाली मलाला को यूनिवर्सिटी आफ एडिनबर्ग ने स्नातकोत्तर की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया। पिछले साल अक्तूबर महीने में पाकिस्तान के खैबर पख्तून ख्वाह के मिंगोरा शहर में स्कूल से घर जाने समय तालिबानियों ने उन्हें गोली मार दी थी। ब्रिटेन के क्वीन एलिजाबेथ अस्पताल में  मलाला का उपचार किया गया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You