'बलूचिस्तान में व्यवस्था बिगडऩे के पीछे भारत की भूमिका के सबूत नहीं'

  • 'बलूचिस्तान में व्यवस्था बिगडऩे के पीछे भारत की भूमिका के सबूत नहीं'
You Are HereInternational
Sunday, October 20, 2013-11:50 PM

इस्लामाबादः पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के मुख्यमंत्री अब्दुल करीम बलूच ने कहा है कि राज्य में घटने वाली घटनाओं में भारत का हाथ होने के उनके पास कोई सबूत नहीं हैं।

पाकिस्तानी समाचार पत्र ‘द नेशन’ ने बलूच के हवाले से कहा है कि बलूचिस्तान में कानून-व्यवस्था बिगडऩे के पीछे भारत की भूमिका होने संबंधी उनके पास कोई सबूत नहीं हैं, लेकिन पाकिस्तान की संघीय सरकार एवं एजेंसियों ने कहा है कि उनके पास इस तरह के सबूत हैं।

बलूच के अनुसार, राज्य में कानून-व्यवस्था के हालात में सुधार हुआ है, इसलिए फ्रंटियर कॉप्र्स (एफसी) द्वारा स्थापित की गईं 50 फीसदी चौकियों को हटा दिया गया है। मुख्यमंत्री बलूच ने कहा कि उन्होंने अब तक बलूच विद्रोहियों से कोई बातचीत नहीं की है। उन्होंने हालांकि उनसे (विद्रोहियों) बातचीत की मंशा जाहिर की है।

बलूच ने कहा, ‘‘हम बातचीत के जरिए समस्या का समाधान चाहते हैं, क्योंकि 21वीं सदी का युग लोकतंत्र का है। सभी समस्याओं को लोकतांत्रिक तरीके से सुलझाया जाना चाहिए, और सेना किसी समस्या का समाधान नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि क्वेटा और प्रांत के अन्य क्षेत्रों के नागरिकों के जीवन एवं संपत्ति की सुरक्षा उनके सरकार की पहली प्राथमिकता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You