अवैध व्यापार करने के मामले में अमेरिका में भारतीय मूल को मिली सजा

  • अवैध व्यापार करने के मामले में अमेरिका में भारतीय मूल को मिली सजा
You Are HereInternational
Wednesday, October 23, 2013-11:44 AM

न्यूयार्क : अमेरिका में रहने वाले भारतीय मूल के तीन लोगों को अपने मोटल में नशीली दवाएं बेचने और यौन गतिविधियों का संचालन करने समेत अवैध व्यापार करने के मामले में दोषी पाया गया है और उन्हें अधिकतम 20 वर्ष कारावास की सजा हो सकती है। जसपाल सिंह(37), कुलविंदर सारोया (42) और लखवीर पवार (41) ने स्वीकार किया है कि उन्होंने सिएटल स्थित अपने मोटल में नशीली दवाएं बेचने का व्यापार किया और उससे लाभ कमाया।

अमेरिकी अटार्नी जेन्नी डर्कन ने बताया कि दोषियों के घर और बैंक खातों से 2,65,000 डॉलर जब्त किए गए। अमेरिकी डिस्ट्रिक्ट जज जॉन कफेनौर अगले वर्ष फरवरी में तीनों लोगों को सजा सुनाएंगे। हालांकि सरकार ने हर दोषी के लिए एक वर्ष से अधिक कारावास की सिफारिश नहीं करने का निर्णय लिया है, लेकिन सजा की अवधि के संबंध में न्यायाधीश अंतिम निर्णय लेंगे। कानून के अनुसार दोषियों को अधिकतम 20 वर्ष कारावास की सजा सुनाई जा सकती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You