भारत और चीन ने सीमा समझौते समेत आठ समझौतों पर किए हस्ताक्षर

  • भारत और चीन ने सीमा समझौते समेत आठ समझौतों पर किए हस्ताक्षर
You Are HereInternational
Wednesday, October 23, 2013-2:52 PM

बीजिंग: भारत और चीन ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर सेना के बीच टकराव और सीमा पर तनाव को टालने के लिए आज एक व्यापक समझौते पर हस्ताक्षर किए। इसके साथ ही दोनों पक्षों ने फैसला किया कि कोई भी पक्ष दूसरे पक्ष पर हमला करने के लिए सैन्य क्षमताओं का इस्तेमाल नहीं करेगा और न ही सीमा पर गश्ती दलों का पीछा करेगा।

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और प्रधानमंत्री ली क्विंग के बीच ग्रेट हॉल आफ दी पीपुल में हुई गहन वार्ता के बाद सीमा रक्षा सहयोग समझौते (बीडीसीए) पर आज हस्ताक्षर किए गए। इस वर्ष अप्रैल में लद्दाख की देपसांग वैली में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के दखल के साथ ही कई मौकों पर चीनी घुसपैठ की घटनाओं से संबंधों में उपजे तनाव की पृष्ठभूमि में यह समझौता हुआ है।

लेकिन जैसा की संभावना थी, वीजा व्यवस्था का उदारीकरण किए जाने पर कोई समझौता नहीं हुआ। हालांकि चीनी पक्ष इस विषय में समझौता करने का प्रबल इच्छुक था लेकिन भारत ने चीनी दूतावास द्वारा अरूणाचल प्रदेश के दो भारतीय तीरंदाजों को नत्थी वीजा दिए जाने के मुद्दे पर उभरे विवाद की पृष्ठभूमि में अपने कदम पीछे खींच लिए।

दोनों पक्षों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की दो घंटे से अधिक समय तक चली वार्ता और सिंह तथा ली के बीच इस वर्ष हुई दूसरी बातचीत के साथ ही कुल मिलाकर दोनों देशों के बीच नौ समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए जिनमें बीडीसीए तथा सीमा पारीय नदियों पर आपसी सहयोग को मजबूत करने संबंधी समझौता भी शामिल है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You