'पाकिस्तान, चीन और ईरान से मंगवाया जा रहा है प्याज'

  • 'पाकिस्तान, चीन और ईरान से मंगवाया जा रहा है प्याज'
You Are HereInternational
Wednesday, October 23, 2013-4:10 PM

नर्इ दिल्लीः देश में प्याज की आसमान छूती कीमतों को देखते हुए राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन संघ (नेफ्डे) ने पाकिस्तान.चीन. ईरान और मिस्र जैसे देशों से इसके आयात के लिए निविदा जारी की है।

देश की मंडियों में प्याज की खुदरा कीमत 50 रूपए किलो से लेकर 100 रपए प्रति किलो तक पहुंच गयी है। इसके पहले वर्ष 2010 में प्याज की कीमत 85 रपए प्रति किलो तक चढी थी। नेफ्डे ने देश में प्याज की इस तंगी को देखते हुए इसके आयात के लिए आज निविदा जारी की। आयातित प्याज को नेफ्डे के नयी दिल्ली के लारेंस रोड स्थित भंडारण गृह में रखा जाएगा।

नेफ्डे के वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक पाकिस्तान, ईरान और चीन से आयातित प्याज  के लिए 200 से 250 डालर प्रति टन की कीमत चुकानी पडेगी जबकि मिस्र से आयातित प्याज करीब 300 डालर प्रति टन पडेगी1 इधर सरकार ने देश से प्याज का निर्यात रोकने के लिए इसका निर्यात शुल्क 900 डालर प्रति टन निर्धारित किया है।

नेफ्डे ने निविदा में आयातित प्याज के लिए गुणवत्ता मानक तय किए हैं जिसके अनुसार वह के वल अ‘छी तरह सूखे हुए, सुर्ख रंग वाले और कम से कम 45 मीलीमीटर आकार वाले प्याज का ही आयात करेगी। प्याज  गिलापन लिए नहीं होना चाहिए तथा इसमें किसी तरह के कीट  का संक्रमण नहीं होना चाहिए।
 
नेफ्डे ने कहा है कि वह केवल वर्ष  2013 में उत्पादित प्याज का ही आयात करेगी। पुरानी फ्सल को आयात के लिए स्वीकार नहीं किया जाएगा। नेफ्डे ने इसके पहले दो सितबर को भी प्याज निर्यात के लिए निविदा जारी की थी। निविदा की शर्तो के अनुसार नेफ्डे को ऐसी कोई भी निविदा पूरे या आशिंक तौर पर बिना कोई कारण बताए निरस्त करने का पूरा अधिकार मिला हुआ है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You