जापान में भूकम्प के बाद उठीं सुनामी, फुकुशिमा सुरक्षित

  • जापान में भूकम्प के बाद उठीं सुनामी, फुकुशिमा सुरक्षित
You Are HereInternational
Saturday, October 26, 2013-3:00 PM

टोक्यो: जापान में कल आए भूकम्प के तेज झटकों के बाद उठी सुनामी पूर्वी तट से टकरायीं लेकिन इससे तट पर स्थित फुकुशिमा परमाणु संयंत्र को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। संयंत्र के संचालक टोक्यो इलेक्ट्रिक  पावर कारपोरेशन (टेपको) के आज जारी बयान में कहा गया है कि तीव्र भूकम्प या उसके बाद उठी सुनामी के कारण न तो संयंत्र को कोई नुकसान पहुंचा और न ही संयंत्र से किसी प्रकार का विकिरण फैला।
    
जापान के पूर्वीतट से 320 किलोमीटर की दूरी पर आये शक्तिशाली भूकम्प की तीव्रता  रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 7.1मापी गयी थी। स्थानीय मीडिया के अनुसार भूकम्प के बाद लगभग एक फुट ऊंची सुनामी पूर्वी तट से टकरायीं।

टेपको की ओर से जारी बयान में कहा गया कि भूकम्प की तीव्रता और इसके बाद सुनामी उठने के खतरे के मद्देनजर संयंत्र में काम करने वाले कुछ लोगों को खतरे वाली जगहों से हट जाने को कहा गया था लेकिन संयंत्र तथा इससे निकलने वाले विकिरण पर नजर रखने वाले यंत्रों ने किसी प्रकार नुकसान या विकिरण के फैलाव को नहीं पकड़ा।

इससे पहले जापान की मौसम विज्ञान एजेंसी ने छोटे पैमाने पर पूर्वी तट पर सुनामी आने की .यलो. चेतावनी जारी की थी। यलो चेतावनी तब जारी की जाती है जब यह संभावना होती है कि सुनामी से उठी समुद्र की लहरें एक मीटर यानी तीन फुट से ऊपर नहीं जाएंगी।
    
वर्ष 2011 के मार्च में जापान में आये शक्तिशाली भूकम्प और इसके कारण उठी सुनामी की चपेट के आने से फुकुशिमा परमाणु संयंत्र को काफी नुकसान पहुंचा था और इससे बडे पैमाने पर विकिरण भी फैला था। इस प्राकृ तिक आपदा में 18 हजार से अधिक लोग प्रभावित हुए थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You