'पाक सरकार, संसद कोई नहीं है तैयार ISI को काबू में रखने को'

  • 'पाक सरकार, संसद कोई नहीं है तैयार ISI को काबू में रखने को'
You Are HereInternational
Saturday, October 26, 2013-12:47 AM

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के एक शीर्ष न्यायाधीश ने कहा है कि संघ सरकार और संसद समेत कोई भी खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलीजेंस (आईएसआई) को नियंत्रण में रखने के वास्ते कानून लाने को तैयार नहीं है। मीडिया की आज की खबर के अनुसार पेशावर हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दोस्त मुहम्मद खान ने खैबर पख्तूनख्वा और कबायली इलाकों में 282 लोगों की गुमशुदगी से जुड़े मामलों की सुनवाई करते हुए यह टिप्पणी की।

द न्यूज की खबर के मुताबिक न्यायमूर्ति खान ने चेतावनी दी कि यदि कानून प्रवर्तन एजेंसियां और सुरक्षा बल इसी तरह हर रोज गैर कानूनी तरीके से लोगों को उठाते रहे तो अदालतों को उनके सदस्यों को उनकी बैरकों तक ही सीमित रखने के लिए बाध्य होना पड़ेगा। उन्होंने सुझाव दिया कि अमेरिका की भांति पाकिस्तान की नागरिक सरकार को आईएसआई को अपने अधीन रखना चाहिए क्योंकि लोगों की समस्याएं बढ़ती जा रही हैं और अवैध हिरासत केंद्र न्यायपालिका के लिए बड़ी समस्या बन गए हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You