जासूसी को मिली थी व्हाइट हाउस की मंजूरी

  • जासूसी को मिली थी व्हाइट हाउस की मंजूरी
You Are HereInternational
Tuesday, October 29, 2013-1:25 PM

वाशिंगटन: विदेशी नेताओं की जासूसी की अमेरिकी कारवाईयों से अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के अनजान रहने के आधिकारिक बयानों के बीच अमेरिकी मीडिया का कहना है कि व्हाइट हाउस और अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने इस जासूसी को मंजूरी दी थी। अपनी एक खोजी रिपोर्ट में लास एंजिलिस टाइम्स ने आज कहा कि नेशनल सिक्यूरिटी एजेंसी (एनएसए) के अधिकारी इस पर खफा हैं कि व्हाइट हाउस यह कह रहा है कि ओबामा विदेशी नेताओं की जासूसी की एनएसए की कारवाईयों से वाकिफ नहीं थे।

सीआईए के पूर्व ठेकेदार एवं व्हिसल ब्लोअर एडवर्ड स्नोडेन की तरफ से उजागर किए गए गोपनीय दस्तावेजों के आधार पर मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि एनएसए ने जर्मनी और फ्रांस जैसे सहयोगी देशों समेत 35 देशों के नेताओं के सेलफोन संचार टैप किए। इससे यूरोपीय देशों में गुस्से की लहर फैल गई। लॉस एंजिलिस टाइम्स के अनुसार यह स्पष्ट नहीं है कि जासूसी ठीक ठीक कैसे संचालित की जाती रही है, लेकिन अगर कोई विदेशी नेता जासूसी का शिकार होता, संबंधित अमेरिकी राजदूत और उस खास देश के मामले देख रहे व्हाइट हाउस के एनएसए अधिकारी को नियमित रिपोर्टें दी जाती हैं।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You