‘संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को विश्वसनीय बनाने के लिए विस्तार आवश्यक’

  • ‘संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को विश्वसनीय बनाने के लिए विस्तार आवश्यक’
You Are HereNational
Wednesday, October 30, 2013-10:38 AM

संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार की आवश्यकता पर जोर देते हुए भारत ने कहा कि इस विश्व निकाय को विश्वसनीय बनाने और इसमें अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के निरंतर विश्वास को बनाए रखने के लिए इसकी सदस्यता में विस्तार करना आवश्यक है। ‘सुरक्षा परिषद की कार्य प्रणाली’ विषय पर कल यहां आयोजित एक खुली बहस में भारतीय सांसद अश्विनी कुमार ने कहा, ‘‘सुरक्षा परिषद की कार्य प्रणाली में वास्तविक सुधार के लिए परिषद की सदस्यता में व्यापक सुधार की आवश्यकता है, जहां न सिर्फ इसकी कार्य प्रणाली में सुधार, बल्कि इसके स्थायी और अस्थायी श्रेणी के सदस्यों में भी विस्तार करने की जरूरत है।’’

 

कुमार ने कहा कि इस संस्था में अंतरराष्ट्रीय समुदाय के निरंतर विश्वास और इसकी विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए यह आवश्यक है। उन्होंने कहा, ‘‘भारत का मानना है कि सुरक्षा परिषद में समकालीन वास्तविकताओं के अनुरूप सुधार करना एक ऐसा विचार है, जिसका समय आ चुका है।’’ कुमार ने कहा कि परिषद के पांच स्थायी सदस्यों को व्यक्तिगत एवं सामूहिक रूप से यह स्वीकार करना चाहिए कि अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था की समकालीन हकीकत को प्रतिबिंबित करने के लिए परिषद में सुधार करना होगा।

 

उन्होंने कहा, ‘‘यह स्वयं स्पष्ट है कि समकालीन भू-राजनीतिक वास्तविकताओं को परिलक्षित करते हुए सुरक्षा परिषद का विस्तार करने से इसके प्रतिनिधित्व स्वरूप में सुधार होगा और इसके फैसलों को अधिक वैधता और विश्वनीयता मिलेगी।’’ कुमार ने कहा कि सुरक्षा परिषद की कार्य प्रणाली में सुधार से इसकी प्रभावशीलता और दक्षता में भी बढ़ोतरी होगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You