धर्मगुरू हत्या मामलाः मुशर्रफ को पाक पुलिस ने दी राहत

  • धर्मगुरू हत्या मामलाः मुशर्रफ को पाक पुलिस ने दी राहत
You Are HereInternational
Thursday, October 31, 2013-12:48 AM

इस्लमाबाद: पाकिस्तानी पुलिस ने लाल मस्जिद में 2007 में एक सैन्य अभियान के दौरान एक धर्म गुरू के मारे जाने के मामले में परवेज मुशर्रफ की किसी तरह की प्रत्यक्ष संलिप्तता होने से इनकार किया है। एक्सप्रेस न्यूज चैनल की खबर के मुताबिक मुशर्रफ को पुलिस की रिपोर्ट में मुख्य आरोपियों में शामिल नहीं किया है। एक संयुक्त जांच टीम ने धर्मगुरू अब्दुल रशीद गाजी और उनकी मां की हत्या की जांच पूरी कर ली है। 

पूर्व राष्ट्रपति को रिपोर्ट के सिर्फ खंड दो में नामजद किया गया है जो उन आरोपियों से संबद्ध है जिन्होंने अपराध में सहयोग किया था। गाजी की हत्या के सिलसिले में मुशर्रफ पर मामला उस वक्त दर्ज किया गया था जब इस धर्मगुरू के बेटे ने अदालत में याचिकाएं दी थी। गौरतलब है कि गाजी की हत्या में संलिप्तता के आरोप में मुशर्रफ को हाल ही में गिरफ्तार किया गया था। इस्लामाबाद के लाल मस्जिद में छिपे आतंकवादियों का सफाया करने के लिए यह अभियान चलाया गया था।

पुलिस की रिपोर्ट के मुताबिक जांचकर्ताओं ने मुशर्रफ का बयान दर्ज किया है और कई गवाहों के बयान लिए गए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि धर्मगुरू के बेटे हारून रशीद गाजी मुशर्रफ के खिलाफ कोई ठोस सबूत मुहैया करने में अक्षम रहे हैं। इसलिए मुशर्रफ को सीधे तौर पर जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। बहरहाल, इस्लामाबाद उच्च न्यायालय एक नवंबर को इस सिलसिले में अपना आखिरी फैसला सुनाएगा। मुशर्रफ इस्लामाबाद के बाहरी इलाके में स्थित अपने फार्महाउस में करीब छह महीने से नजरबंद हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You